scorecardresearch
 

मेट्रो स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर 20 मिनट से अधिक बैठ रहे हैं तो सावधान!

दिल्ली मेट्रो में सफर कर रहे यात्रियों, खासकर प्लेटफॉर्म पर दोस्तों का इंतजार करने वालों के लिए एक जरूरी जानकारी है. अगर आप प्लेटफॉर्म पर किसी के इंतजार में बैठे हैं और इस बीच ट्रेन गुजरने के बावजूद उस पर सवार नहीं हो रहे हैं तो वहां तैनात सुरक्षा बल आपको प्लेटफॉर्म से बाहर का रास्ता दिखा सकते हैं.

X
DMRC ने लिखित आदेश नहीं जारी किया DMRC ने लिखित आदेश नहीं जारी किया

दिल्ली मेट्रो में सफर कर रहे यात्रियों, खासकर प्लेटफॉर्म पर दोस्तों का इंतजार करने वालों के लिए एक जरूरी जानकारी है. अगर आप प्लेटफॉर्म पर किसी के इंतजार में बैठे हैं और इस बीच ट्रेन गुजरने के बावजूद उस पर सवार नहीं हो रहे हैं तो वहां तैनात सुरक्षा बल आपको प्लेटफॉर्म से बाहर का रास्ता दिखा सकते हैं.

दरअसल, मेट्रो ट्रेन के सामने आकर आत्महत्या के बढ़ते मामलों को देखते हुए सुरक्षा के बाबत CISF ने नई व्यवस्था शुरू की है. इसके तहत अगर आप अकेले हैं और प्लेटफॉर्म पर 15-20 मिनट तक बेवजह बैठे पाए जाते हैं, या इस दौरान ट्रेन आने के बावजूद उसमें सवार नहीं हो रहे हैं तो सुरक्षाबल आपको वहां से जाने लिए कह सकते हैं.

क्या है समस्या
यकीनन यह एक सही कवायद है, लेकिन यात्रियों को ना तो इस ओर कोई सूचना दी गई है और ना ही स्टेशन परिसर में इस संबंध में कोई लिखित जानकारी ही चस्पा की गई. ऐसे में जाहिर तौर पर अचानक सुरक्षाबलों की ओर से प्लेटफॉर्म छोड़ने की हिदायत को यात्री अपनी निजता और अधिकारों का हनन मान रहे हैं.

सुरक्षाकर्मी बताते हैं कि कई बार यात्रियों से इस ओर बहस भी हो जाती है. हालांकि सुरक्षाकर्मी इसे मौखिक निर्देश बताते हैं और ज्यादा सवाल-जवाब करने पर लिखित निर्देश के ना होने की बात कहते हैं. ऐसे में अगर आप भी अकेले हैं और लम्बे समय से प्लेटफॉर्म पर किसी का इंतजार कर रहे हैं तो ऐसी किसी स्थिति के लिए तैयार रहिए. सुरक्षाकर्मी आपको स्टेशन के अन्य दूसरे हिस्सों में इंतजार करने की सलाह दे सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें