scorecardresearch
 

मेट्रो पार्किंग किराये में बढ़ोतरी के लिए BJP-AAP दोनों जिम्मेदार: कांग्रेस

माकन ने कहा कि 2016 में फेयर फिक्सेशन कमेटी की रिपोर्ट आ गई थी, दो साल में दो बार इस कमेटी के कारण दाम बढ़ाए गए.  कांग्रेस नेता ने बीजेपी और आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, हमने देखा है कि यह लोग बस प्रदर्शन करते हैं, एक-दूसरे के खिलाफ आरोप लगाते हैं, मगर दिल्ली की जनता पिस रही है.

अजय माकन अजय माकन

मेट्रो पार्किंग के दाम में बढ़ोतरी के सवाल पर दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन ने आम आदमी पार्टी और बीजेपी पर निशाना साधा है. उन्होंने शुक्रवार को कहा कि दोनों एक दूसरे पर दोषारोपण कर रहे हैं, जब किराया बढ़ोतरी के लिए समिति बनी थी, तब दिल्ली और केंद्र सरकार दोनों के लोग इस कमेटी के सदस्य थे.

माकन ने कहा कि 2016 में फेयर फिक्सेशन कमेटी की रिपोर्ट आ गई थी, दो साल में दो बार इस कमेटी के कारण दाम बढ़ाए गए. कांग्रेस नेता ने बीजेपी और आम आदमी पार्टी पर निशाना साधते हुए कहा, हमने देखा है कि यह लोग बस प्रदर्शन करते हैं, एक-दूसरे के खिलाफ आरोप लगाते हैं, मगर दिल्ली की जनता पिस रही है.

माकन ने कहा कि आम आदमी पार्टी और बीजेपी दिल्ली की जनता की चिंता नहीं करती है. मेट्रो फेज 4 जो आ जानी चाहिए थी उसकी डीपीआर ही अब तक मंजूरी नहीं हुई है.  इनके झगड़े में मेट्रो फेज 3 अपने समय से देरी से चल रही है. मेट्रो फेज 3 ढाई साल देरी से चल रही है. उन्होंने कहा कि मेट्रो 4 लगता ही नहीं कि वह कभी आ पाएगी. दिल्ली में ट्रांसपोर्ट व्यवस्था पूरी तरह चौपट हो गई है. पार्किंग का दाम बढ़ाने से असर यह होगा कि लोग मेट्रो में चलने से परहेज करेंगे.

कांग्रेस नेता ने कहा कि पिंक लाइन में लोग सफर नहीं करते हैं और नीचे सड़क पर भीड़ भरी रहती है. रिंग रोड पर खूब ट्रैफिक जाम लगता है और ऊपर की ट्रैफिक पिंक लाइन पूरी तरह खाली चलती है. पार्किंग का किराया बढ़ने से जो लोग मेट्रो में जा रहे हैं, वह भी अब इसमें नहीं जाएंगे. दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था को यह दोनों सरकारी चौपट करने में लगी हैं.

अजय माकन ने कहा कि दिल्ली और केंद्र दोनों सरकार ही बढ़े मेट्रो किराये के लिए जिम्मेदार हैं. दोनों की चिंता होनी चाहिए कि दिल्ली में कैसे भी वायु प्रदूषण कम हो. मगर यह दोनों केवल आरोप प्रत्यारोप करते रहते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें