scorecardresearch
 

AIIMS ने जारी की एडवाइजरी, छात्र और स्टाफ न करें विरोध प्रदर्शन

दिल्ली स्थित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ने अपने सभी विद्यार्थियों, फैकल्टी मेंबर्स, नर्स और स्टाफ को एडवाइजरी जारी कर कहा है कि किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन और हड़ताल से दूर रहें. अगर ऐसा नहीं किया जाएगा तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी.

दिल्ली एम्स की फाइल फोटो (ANI) दिल्ली एम्स की फाइल फोटो (ANI)

  • कैंपस के अंदर किसी भी प्रदर्शन, धरने की मनाही
  • एडवाइजरी न मानने पर कार्रवाई की चेतावनी

नागरिकता कानून को लेकर देश में विरोध प्रदर्शन जारी है. अलग-अलग यूनिवर्सिटी के छात्र भी इस कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरे हैं. इस बीच अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ने अपने सभी विद्यार्थियों, फैकल्टी मेंबर्स, नर्स और स्टाफ को एडवाइजरी जारी कर कहा है कि किसी भी तरह के धरना प्रदर्शन और हड़ताल से दूर रहें. अगर ऐसा होता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

दिल्ली एम्स की ओर से जारी एडवाइजरी में हिदायत दी गई है कि कैंपस के भीतर लाउडस्पीकर का इस्तेमाल नहीं होगा. नारेबाजी करने की इजाजत भी नहीं है. इसके अलावा धरना या विरोध प्रदर्शन न करने का निर्देश दिया गया है.

CAA पर बेटी सना को सौरव गांगुली ने बताया नासमझ बच्ची, ट्विटर पर ट्रोल

एम्स की बाउंडरी के 500 मीटर के दायरे में न तो कोई गेट मीटिंग होगी और न ही विरोध प्रदर्शन. आधिकारिक कार्यों में किसी भी तरह के हस्तक्षेप से बचने की सलाह दी गई है. ट्रेड यूनियन से जुड़े सभी प्रदर्शन कैंपस से बाहर किए जा सकते हैं. इस एडवाइजरी के उल्लंघन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई की जा सकती है. प्रशासन की ओर से कार्रवाई के लिए दिल्ली हाई कोर्ट के आदेश का हवाला दिया गया है.

CAA Protest LIVE: CAA के खिलाफ देश के कई शहरों में प्रदर्शन, लखनऊ में फूंकीं गाड़ियां, मुंबई में भी नारेबाजी

एडवाइजरी में कहा गया है कि सभी सेंटर के प्रमुख या विभागों के हेड इस सूचना को छात्रों, रेजिडेंट, स्टाफ और फैकल्टी मेंबर की जानकारी में दे दें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें