scorecardresearch
 

दिसंबर में MLA टिकट बांटेगी AAP, आज से मेगा कैंपेन की शुरुआत

दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने बताया कि आम आदमी पार्टी 18 नवंबर से दिल्ली में एक मेगा कैंपेन की शुरुआत कर रही है. इस मेगा कैंपेन के तहत दिल्ली में 14 हजार बूथों पर जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

  • 18 नवंबर से 24 दिसंबर तक यह मेगा कैंपेन
  • मेगा कैंपेन 14 हजार बूथों पर होगा जनसंवाद

दिल्ली में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक दल सक्रिय हो गए हैं. अपने कैंपेन में सबसे आगे चल रही सत्ताधारी आम आदमी पार्टी(AAP) 18 नवंबर से मेगा कैंपेन शुरू कर रही है. पार्टी के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने 'आजतक' से खास बातचीत में बताया कि दिल्ली की 70 विधानसभाओं में विधायक टिकट बांटने का सिलसिला दिसंबर से शुरू किया जाएगा.

विधायकों के नेतृत्व में मेगा कैंपेन

दिल्ली प्रदेश संयोजक एवं कैबिनेट मंत्री गोपाल राय ने बताया कि आम आदमी पार्टी 18 नवंबर से दिल्ली में एक मेगा कैंपेन की शुरुआत कर रही है. इस मेगा कैंपेन के तहत दिल्ली में 14 हजार बूथों पर जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा. जो विधायकों के नेतृत्व में किए जाएंगे. 18 नवंबर से 24 दिसंबर तक यह मेगा कैंपेन चलेगा.

AAP नेता गोपाल राय से जब टिकट वितरण के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 18 दिसंबर को कैंपेन खत्म होने के बाद पार्टी टिकट बांटने की प्रक्रिया शुरू करेगी. उन्होंने बताया कि इससे पहले तीन चरण के कैंपेन दिल्ली की जनता के साथ सीधा संवाद करने के लिए आम आदमी पार्टी द्वारा चलाए जा चुके हैं.

पहले भी तीन चरणों में हो चुका है संवाद

पहले चरण का कैंपेन 1 सितंबर से 3 अक्टूबर तक चला था, जिसके तहत दिल्ली 70 विधानसभाओं में जनसंवाद यात्राओं का आयोजन किया गया था. दूसरे चरण में दिल्ली के 14 जिलों में जिला सम्मेलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया था, जिसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओ के साथ सीधा संवाद किया था. तीसरे चरण में दिल्ली के अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग समाज और वर्गों के लोगों के साथ मंडल स्तर पर फ्रंटल संगठनों द्वारा जनसंवाद कार्यक्रम किया जा रहा है.

हर दिन 4 से 5 बूथों पर होगा जनसंवाद कार्यक्रम

गोपाल राय ने बताया कि 70 विधानसभाओं में हर बूथ पर इस जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन विधायक द्वारा किया जाएगा. सभी विधायक अपने-अपने विधानसभाओं में हर बूथ पर इस कार्यक्रम को चलाएंगे. जिन विधानसभाओं में आम आदमी पार्टी के विधायक नहीं है, वहां पर विधानसभा अध्यक्ष एवं संगठन मंत्री इस कार्य का निर्वहन करेंगे. हर विधानसभा में हर दिन लगभग 4 से 5 बूथों पर जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा.

जनसंवाद कार्यक्रम के लिए बूथ कमेटियों का गठन

आम आदमी पार्टी के मुताबिक चुनाव के मद्देनजर ही जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान बूथ कमेटियों का भी गठन किया जाएगा. जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान जो भी लोग चुनाव में काम करने के इच्छुक होंगे उन्हीं लोगों में से बूथ कमेटी का गठन किया जाएगा. इन बूथ कमेटियों के गठन हेतु पार्टी ने 2700 मंडल प्रभारियों की नियुक्ति की है. यह सभी मंडल प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में हर जनसंवाद कार्यक्रम के दौरान मौजूद रहेंगे. विधानसभा के अंदर बूथ कमेटियों के गठन की जिम्मेदारी विधानसभा अध्यक्ष को दी गई है.

गोपाल राय ने बताया कि इस पूरे कार्यक्रम की निगरानी केंद्रीय कार्यालय के द्वारा की जाएगी. इस कार्यक्रम को मॉनिटर करने के लिए पार्टी ने 70 विधानसभाओं के लिए 70 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति करने का फैसला लिया है. यह सभी पर्यवेक्षक हर जनसंवाद कार्यक्रम में मौजूद रहेंगे और उससे संबंधित रिपोर्ट तैयार करके केंद्रीय कार्यालय को भेजेंगे. यह सभी पर्यवेक्षक जिला अध्यक्षों के नेतृत्व में काम करेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें