scorecardresearch
 

नक्‍सली हमलों से हिला छत्तीसगढ़, 6 सीआरपीएफ जवानों समेत 15 की मौत

छत्तीसगढ़ में शनिवार को हुए दो नक्सली हमले में बीजापुर व बस्तर जिले में 6 जवान शहीद हो गए व 7 मतदानकर्मियों सहित एम्बुलेंस के चालक और चिकित्सा सहायक की मौत हो गई. इस तरह इस घटना में अब तक कुल 15 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है.

Symbolic Image Symbolic Image

छत्तीसगढ़ में शनिवार को हुए दो नक्सली हमले में बीजापुर व बस्तर जिले में 6 जवान शहीद हो गए व 7 मतदानकर्मियों सहित एम्बुलेंस के चालक और चिकित्सा सहायक की मौत हो गई. इस तरह इस घटना में अब तक कुल 15 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. इस हमले में 3 जवानों सहित करीब 5 कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

मतदानकर्मियों की मौत की पुष्टि खुद प्रदेश के सीईओ सुनील कुजूर ने की है. वहीं जवानों और चालक तथा सहायक के मौत की पुष्टि एडीजी आरके विज ने की है.

सरकारी सूत्रों ने बताया कि पहला हमला बीजापुर जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर कुटरू के पास केतुलनार में मतदान दल को लेकर लौट रही राजस्थान ट्रेवल्स की बस को नक्सलियों ने विस्फोट कर उड़ा दिया. बस में सवार 7 लोगों की मौत हो गई. इस हमले में आधा दर्जन लोग घायल हो गए. ये सभी मतदानकर्मी बताए जा रहे हैं.

इसी तरह एक अन्य घटना में बस्तर जिले के दरभा से जगदलपुर मार्ग पर तीन किलोमीटर दूर नक्सलियों ने संजीवनी 108 वाहन को उड़ा दिया. इस घटना में सीआरपीएफ के 6 जवान शहीद हो गए. जानकारी के अनुसार वाहन दरभा से मरीज लेने जा रही थी, जिसे खाली देख रोड ओपनिंग पार्टी के रूप में तैनात सीआरपीएफ 80 बटालियन के नौ जवान सवार हो गए.

दरभा-बागलाफड़ा मोड़ के पास जैसे ही एंबुलेंस पुलिया के पास पहुंची, नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट कर दिया. 6 जवान व संजीवनी एंबुलेंस चालक वासु सेठिया और चिकित्सा सहायक श्रवण नेताम घटनास्थल पर ही शहीद हो गए. तीन घायल जवानों को मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है, जहां उनका इलाज चल रहा है.

विस्फोट इतना जबरदस्त था कि वाहन के परखच्चे उड़ गए. इंजन लगभग 20 मीटर दूर तक उड़ गया. घटना के बाद से सूबे के प्रशासनिक हलके में हड़कम्प मचा हुआ है. मुख्यमंत्री ने हमले की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए इसे नक्सलियों की कायराना करतूत बताया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें