scorecardresearch
 

छत्तीसगढ़ के कांकेर में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, 2 नक्सली ढेर

छत्तीसगढ़ के कांकेर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. शुक्रवार तड़के राज्य पुलिस की स्पेशल टीम (डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्डस) डीआरजी ने कांकेर के टाडोकी इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही थी. इसी दौरान नक्सलियों ने टीम पर फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को मार गिराया है.

मुठभेड़ के बाद बरामद हथियार मुठभेड़ के बाद बरामद हथियार

छत्तीसगढ़ के कांकेर में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई. शुक्रवार तड़के राज्य पुलिस की स्पेशल टीम (डिस्ट्रिक्ट रिजर्व गार्डस) डीआरजी ने कांकेर के टाडोकी इलाके में सर्च ऑपरेशन चला रही थी. इसी दौरान नक्सलियों ने टीम पर फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को मार गिराया है.

पुलिस को शक है कि इलाके में और भी नक्सली छिपे हो सकते हैं. इस कारण सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है. नक्सल विरोधी अभियान के डीआईजीपी पी सुंदरराज ने बताया कि पुलिस को कांकेर के टाडोकी थानाक्षेत्र के मुरनार गांव के आस-पास नक्सली हलचल की खबर मिली थी. इसके बाद सर्च ऑपरेशन चलाया गया.

ऑपरेशन के दौरान दोनों ओर से फायरिंग शुरू हो गई. सुरक्षाबलों ने दो नक्सलियों को मार गिराया गया. कुछ नक्सली घटनास्थल से भागने में कामयाब रहे, जिनकी तलाश की जा रही है. पुलिस ने यहां से चार हथियार भी बरामद किए हैं.

सुकमा में नक्सलियों का उत्पात

इससे पहले नक्सलियों ने 8 जून को सुकमा जिले में उत्पात मचाया था. नक्सलियों ने दोरनापाल से जगरगुंडा में सड़क निर्माण में लगे दो वाहनों को आग के हवाले कर दिया था. इस घटना को अंजाम देने के लिए 50 से 60 हथियारबंद नक्सली आए थे. दो वाहनों में आगजनी करने के बाद नक्सलियों ने मजदूरों को काम ना करने की हिदायत दी थी.

घटना की सूचना मिलते ही सुरक्षाबल वहां पर पहुंच गए. मौके पर पहुंचे कोबरा 206 बटालियन के जवानों को देख भागे नक्सली भाग खड़े हुए. एसपी शलभ सिन्हा ने कहा कि नक्सली इलाके में विकास नहीं होने देना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण के काम को जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें