scorecardresearch
 

CM भूपेश का ऐलान- रायपुर में बनाएंगे अमर जवान ज्योति, 3 फरवरी को राहुल गांधी करेंगे भूमिपूजन

Amar Jawan Jyoti in Raipur: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि जिन सपूतों ने देश के लिए प्राण न्योछावर किए, हम उनकी शहादत का सम्मान छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति के माध्यम से करेंगे. इसके लिए रायपुर में अमर जवान ज्योति का निर्माण कराया जाएगा.

X
 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राहुल गांधी
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और राहुल गांधी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • रायपुर में प्रज्ज्वलित होगी छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति
  • CM भूपेश बघेल ने की घोषणा, बोले-यहां जलेगी ज्योति

Amar Jawan Jyoti in Raipur: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chief Minister Bhupesh Baghel) ने शहीदों के सम्मान में प्रदेश की राजधानी रायपुर में छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति का निर्माण कराने की घोषणा की है. अमर जवान ज्योति का निर्माण रायपुर के चौथी वाहिनी सशस्त्र बल परिसर में किया जाएगा. 3 फरवरी को राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भूमि पूजन करेंगे.

'कांग्रेस बलिदानियों की पार्टी'
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि कांग्रेस बलिदानियों की पार्टी रही है. बलिदान का सम्मान करना जानती है. इतिहास गवाह है कि जो भी समाज अपने शहीदों का सम्मान नहीं करता, उनकी कुर्बानियों की यादों को संजोकर नहीं रखता, उनकी निशानियों का अपमान करता है, वो समाज मिट जाता है.

'1972 से लगातार जल रही थी ज्योति'

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि सन 1972 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने शहीदों के सम्मान में नई दिल्ली में अमर जवान ज्योति प्रज्ज्वलित की थी, जो 1972 से लगातार जलती आ रही थी, लेकिन केंद्र सरकार ने अमर जवान ज्योति को इंडिया गेट से हटाकर राष्ट्रीय युद्ध स्मारक में शिफ्ट कर दिया है.

'हम करेंगे शहादत का सम्मान'

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि अब राजधानी रायपुर में शहीदों के सम्मान में छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति प्रज्ज्वलित होगी. छत्तीसगढ़ के जिन सपूतों ने देश के लिए प्राण न्योछावर किए, हम उनकी शहादत का सम्मान छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति के माध्यम से करेंगे.

25 फीट ऊंची और 100 फीट लंबी होगी दीवार

सीएम बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ अमर जवान ज्योति में शहीदों की नामावली सूची की दीवार, मेमोरियल टावर, वीवीआइपी मंच भी तैयार किया जाएगा. शहीदों की नामावली सूची की दीवार का निर्माण ब्राउन मार्बल और शहीदों के नाम उसी मार्बल में खुदाई कराकर लिखे जाएंगे. यह दीवार लगभग 25 फीट ऊंची और लगभग 100 फीट लंबी होगी. दीवार की मोटाई 3 फीट होगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें