scorecardresearch
 

किस्टाराम हमले में शामिल 14 संदिग्ध नक्सली पुलिस के हत्थे चढ़े

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार संदिग्ध नक्सली किस्टाराम सहित अन्य आधा दर्जन हमलों में शामिल रहे हैं. पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार सभी नक्सली जनमिलिशिया के सदस्य हैं. वे सभी छत्तीसगढ़ के मूल निवासी हैं.

सीआरपीएफ के जवान सीआरपीएफ के जवान

छत्तीसगढ़ के सुकमा में पिछले महीने केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) पर हुए हमले में शामिल 14 संदिग्ध नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. सभी की गिरफ्तारी किस्टाराम इलाके से हुई है. नक्सलियों ने बारूदी सुरंग विस्फोट कर एंटी लैंड माइन विहिकल को उड़ाया दिया था. इसमें सीआरपीएफ के 9 जवान शहीद हुए थे.

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार संदिग्ध नक्सली किस्टाराम सहित अन्य आधा दर्जन हमलों में शामिल रहे हैं. पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार सभी नक्सली जनमिलिशिया के सदस्य हैं. वे सभी छत्तीसगढ़ के मूल निवासी हैं.

सुकमा के एसपी अभिषेक मीणा के मुताबिक खुफिया रिपोर्ट में किस्टाराम इलाके के जंगलों में बड़ी संख्या में नक्सलियों की चहलकदमी के बारे में पता चला था, जिसके बाद फौरन DF,DRG, STF एवं सीआरपीएफ की संयुक्त टीम इलाके की ओर रवाना हुई. इलाके की घेराबंदी कर मड़कम जोगा, कोमरम रामू, पोडिय़म नंदा, माड़वी दुला, माड़वी सिंगा, मड़कम नंदा, पोडिय़म पांडू, सोढ़ी देवा, मड़कम जोगा, माड़वी जोगा एवं मड़कम हिड़मा को गिरफ्तार किया गया.

अभिषेक मीणा के मुताबिक पकड़ गए नक्सली किस्टाराम हमले सहित आधा दर्जन हत्या, हत्या के प्रयास, आगजनी, अपहरण, लूटपाट, पुलिस पर फायरिंग, बारूदी विस्फोट एवं सड़क काटने जैसी आदि मामलों में शामिल रहे हैं. उन्होंने बताया कि पकड़े गए लोगों से पूछताछ के दौरान नक्सली गतिविधियों के बारे में महत्वपूर्ण बातें पता चली हैं. फिलहाल उनसे पूछताछ जारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें