scorecardresearch
 

लालू यादव ने कहा- कोई मुझे गिफ्ट देता है तो दूसरे के पेट में क्यों दर्द होता है

लालू यादव के दिन आजकल ठीक नहीं चल रहे हैं. एक के बाद एक विवाद, हर रोज नए नए आरोप, इनकम टैक्स के छापे, परिवार के लोगों के जमीन घोटाले में फंसने के मामले, खराब स्वास्थ्य और ऊपर से नीतीश कुमार के साथ संबंधों में तनातनी.

लालू प्रसाद यादव लालू प्रसाद यादव

लालू यादव के दिन आजकल ठीक नहीं चल रहे हैं. एक के बाद एक विवाद, हर रोज नए नए आरोप, इनकम टैक्स के छापे, परिवार के लोगों के जमीन घोटाले में फंसने के मामले, खराब स्वास्थ्य और ऊपर से नीतीश कुमार के साथ संबंधों में तनातनी. लेकिन लालू यादव है कि अपने बिंदास अंदाज में हर फिक्र को धुएं में उड़ा देना चाहते हैं.

बिहार में आजकल हर रोज एक नया मामला सामने आ रहा है जिसमें यह बात पता चलती है कि लालू यादव को किसी न किसी ने अपनी जमीन और घर गिफ्ट में दे दिया. बीजेपी का आरोप है कि यह दरअसल गिफ्ट नहीं बल्कि बेनामी संपत्ति और रिश्वत का मामला है. सुशील मोदी आए दिन प्रेस कांफ्रेंस करके कहते हैं कि लालू ने लोगों को नौकरी देने के बदले काम कराने के बदले और मंत्री बनाने के बदले जमीन के तौर पर रिश्वत ली.

लेकिन जब लालू यादव से पूछा गया कि भला हर कोई उन्हें गिफ्ट पर गिफ्ट और जमीन पर जमीन क्यों दे रहा है तो लालू यादव का कहना था कि अगर कोई मुझे अपनी संपत्ति गिफ्ट में देना चाहता है तो दूसरे लोगों के पेट में दर्द क्यों हो रहा है. लालू का तर्क है कि गिफ्ट देना गैर कानूनी बिल्कुल नहीं है. बीजेपी के आरोप के बारे में पूछने पर भड़क का लालू कहते हैं कि क्या बीजेपी के लोग भिखमंगे हैं? वो लोग इस लायक है ही नहीं कि उन्हें कोई गिफ्ट दे.

उनका दावा है कि गिफ्ट में जमीन मिलने का आरोप पुराना है और इसकी कई बार जांच हो चुकी है, लेकिन साबित कुछ भी नहीं हो सका. साथ में वे यह भी जोड़ते हैं कि गिफ्ट का मामला उछालकर कांति सिंह और रघुनाथ झा जैसे लोगों को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है.

 

बुधवार को लालू यादव राष्ट्रपति चुनाव के बारे में विपक्ष की बैठक में शामिल होने के लिए दिल्ली आए थे. बैठक के बाद लालू ने कहा कि पहले बीजेपी अपने उम्मीदवार की घोषणा कर ले उसके बाद वह लोग अपना अगला कदम तय करेंगे. लालू यादव ने चुटकी लेते हुए कहा कि मोदी के गुरु आडवाणी रहे हैं, लेकिन उन्हें नहीं लगता कि आडवाणी को गुरु दक्षिणा मिलेगी. क्या आडवाणी का नाम सामने आया तो लालू उनका समर्थन करेंगे यह सवाल पूछे जाने पर लालू यादव कोई साफ जवाब तो नहीं देते लेकिन इतना कहते हैं कि राष्ट्रपति को लेकर वह लोग विचारधारा से समझौता बिल्कुल नहीं करेंगे.

बहू ऐसी संस्कार हो जो घर को अच्छे से चला सके
राबड़ी देवी का एक बयान आजकल बहुत चर्चा में है जिसमें उन्होंने कहा था कि अपने बेटों के लिए उन्हें ऐसे बहू की तलाश है जो मॉल और सिनेमा नहीं जाए. लालू यादव से जब पूछा गया कि वह कैसी बहू चाहते हैं तो उनका जवाब था की बहू कैसी होनी चाहिए जो संस्कारी हो और घर को अच्छे से चला सके. लालू कहते हैं कि यह बहुत जरूरी है कि लड़का और लड़की एक-दूसरे को पसंद हो लेकिन साथ ही यह भी कहते हैं कि वह अपने बच्चों की अरेंज मैरिज करना चाहेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें