scorecardresearch
 

बिहार में भारी बारिश के बीच CM नीतीश कुमार ने अफसरों के साथ की आपात बैठक

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलाधिकारियों को नदियों के जलस्तर में वृद्धि की स्थिति को देखते हुए बाढ़ की संभावना के लिए रिलीफ कैंप के लिए जगह चिन्हित करने का निर्देश दिया.

नीतीश कुमार की बाढ़ को लेकर इमरजेंसी बैठक नीतीश कुमार की बाढ़ को लेकर इमरजेंसी बैठक

  • वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से लिया बारिश के हालातों का जायजा
  • प्रदेश में हुई पिछले 24 घंटे में 52 मिलीमीटर वर्षा
  • जलस्तर में वृद्धि से बाढ़ की संभावना, दिए सखत निर्देश

राजधानी पटना समेत उत्तर बिहार के 14 जिलों में हो रही लगातार मूसलाधार बारिश से उत्पन्न स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को प्रभावित जिलों के जिलाधिकारियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इमरजेंसी बैठक की.

इस बैठक में भारतीय मौसम विज्ञान के प्रतिनिधि भी शामिल हुए जिन्होंने जानकारी दी कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 52 मिलीमीटर वर्षा हुई है. मौसम विज्ञान के अनुसार अगले 48 घंटे मे पूरे प्रदेश में बारिश की स्थिति बनी रहेगी . मौसम विभाग के अनुसार 3 अक्टूबर तक बिहार में स्थिति सामान्य होने के आसार हैं.

इन शहरों में बढ़ रहा जलस्तर

मुख्यमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, बेगूसराय, खगड़िया, मुंगेर, भागलपुर, कटिहार, पूर्णिया, अररिया, किशनगंज, सुपौल, मधेपुरा, वैशाली, सारण, सिवान और गोपालगंज जिलों के जिलाधिकारियों के साथ बातचीत की और इन इलाकों में नदियों के बढ़ते जलस्तर को लेकर जानकारी ली.

रिलीफ कैंप के लिए जगह चिन्हित

बैठक के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सभी जिलाधिकारियों को नदियों के जलस्तर में वृद्धि की स्थिति को देखते हुए बाढ़ की संभावना के लिए रिलीफ कैंप के लिए जगह चिन्हित करने का निर्देश दिया. बैठक में नीतीश कुमार ने सभी जिलाधिकारियों को कम्युनिटी किचन की व्यवस्था भी करने के निर्देश जारी किए.

बता दें, राजधानी पटना समेत उत्तर बिहार के तकरीबन 14 जिलों में मौसम विभाग और आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से रेड अलर्ट जारी किया गया है और इस बात का पूर्वानुमान भी है कि अगले 48 घंटों में लगातार इन सभी जिलों में मूसलाधार बारिश होती रहेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें