scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: पुलवामा के आतंकी के साथ राहुल गांधी की ये फोटो है फर्जी

सोशल मीडिया पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पुलवामा हमले के जिम्मेदार आतंकवादी आदिल अहमद डार की एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है. क्या यह तस्वीर सही है या फिर फर्जी है, इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने इसकी पड़ताल की.

वायरल हो रही राहुल गांधी की तस्वीर वायरल हो रही राहुल गांधी की तस्वीर

क्या पुलवामा हमले का जिम्मेदार आतंकी आदिल अहमद डार कभी राहुल गांधी से भी मिला था?  जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए आतंकी हमले के बाद सोशल मीडिया पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और इस हमले के जिम्मेदार आतंकवादी आदिल अहमद डार की एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है. तस्वीर में राहुल गांधी टोपी पहने नजर आ रहे हैं और उनके साथ आतंकी आदिल नजर आ रहा है, जबकि उनके पीछे दरगाह और कुछ लोगों की भीड़ को देखी जा सकती है.

इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पड़ताल में पाया कि वायरल हो रही तस्वीर में फर्जीवाड़ा किया गया है। ये तस्वीर साल 2014 में खींची गई थी और तस्वीर में राहुल के साथ खड़ा व्यक्ति आतंकी आदिल नहीं है बल्कि कांग्रेस नेता ​जितिन प्रसाद हैं.

फेसबुक यूजर रिद्धी पठानिया ने तीन तस्वीरों का कोलाज अपनी वॉल पर गुरुवार को पोस्ट किया था जिसके साथ ही कैप्शन में लिखा था: "भारतीय फौज पर हमला करने वाला निकला राहुल गांधी का खास. क्या इस हमले के पीछे कांग्रेस का हाथ तो नहीं." ये पोस्ट सोशल मीडिया पर कई पेजों और अकाउंट्स से अपलोड की गई है. खबर लिखे जाने तक करीब 2500 से ज्यादा बार इस पोस्ट को ​शेयर किया जा चुका था.

कोलाज में पहली तस्वीर को फोटोशॉप कर इसमें राहुल के साथ खड़े व्यक्ति के चेहरे की जगह आतंकी आदिल का चेहरा लगाया गया है. वहीं दूसरी तस्वीर में राहुल जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला के साथ नजर आ रहे हैं. तीसरी तस्वीर आतंकी आदिल अहमद दार की है.

वायरल तस्वीर को रिवर्स सर्च करने पर हमने पाया कि ये तस्वीर उत्तर प्रदेश के बाराबंकी में  2014  में खींची गई थी. 28 फरवरी 2014 को राहुल गांधी बाराबंकी स्थित हाजी वारिस अली शाह की दरगाह पर जियारत करने पहुंचे थे. तस्वीर में राहुल की दायीं तरफ नजर आ रहे शख्स कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद है. इस तस्वीर को कुछ न्यूज वेबसाइट ने बतौर फाइल फोटो इस्तेमाल किया है.

पड़ताल में ये भी पाया गया कि राहुल गांधी वाली तस्वीर फोटो शॉप की गई है और असली तस्वीर में राहुल के साथ आतंकी आदिल नहीं बल्कि कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद हैं.

फैक्ट चेक

फेसबुक यूजर रिद्धी पठानिया ने तस्वीर शेयर की

दावा

राहुल गांधी का करीबी था आतंकी अ​दिल अहमद दार

निष्कर्ष

वायरल हो रही तस्वीर फर्जी है, असली तस्वीर में सॉफ्टवेयर से बदलाव किये गए. राहुल के साथ कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद हैं, ना कि आतंकी आदिल.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक यूजर रिद्धी पठानिया ने तस्वीर शेयर की
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें