scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: स्वेज नहर से निकलते वक्त एवर गिवेन जहाज ने नहीं बजाया ‘धूम मचा ले’ वाला हॉर्न

सोशल मीडिया पर कुछ लोग कह रहे हैं कि हाल ही में मिस्र की स्वेज नहर में फंसे एवर गिवेन जहाज को काफी मशक्कत के बाद जब निकाला गया तो वहां से निकलते वक्त जहाज के हॉर्न के जरिये बॉलीवुड गीत ‘धूम मचा ले’ की धुन बजाई गई.

फैक्ट चेक फैक्ट चेक

हिंदुस्तान की सड़कों पर फिल्मी गानों की धुन में हॉर्न बजाते ट्रक-बसों को आपने बहुत बार देखा होगा. अब जरा कल्पना कीजिए कि अगर कोई अंतरराष्ट्रीय पानी का जहाज भी इसी तरह बॉलीवुड की किसी अतरंगी धुन में हॉर्न बजाने लगे तो क्या नजारा होगा?

दरअसल, सोशल मीडिया पर कुछ लोग कह रहे हैं कि हाल ही में मिस्र की स्वेज नहर में फंसे एवर गिवेन जहाज को काफी मशक्कत के बाद जब निकाला गया तो वहां से निकलते वक्त जहाज के हॉर्न के जरिये बॉलीवुड गीत ‘धूम मचा ले’ की धुन बजाई गई. ऐसा कहने वाले लोग पानी के जहाजों का एक वीडियो भी शेयर कर रहे हैं जिसमें ‘धूम मचा ले’ गीत की धुन वाला हॉर्न सुनाई दे रहा है.

तकरीबन एक हफ्ते तक मिस्र की स्वेज नहर में फंसे रहने के बाद आखिरकार एवर गिवेन नाम के विशालकाय जहाज को निकाल लिया गया था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस जहाज के चालक दल में 25 भारतीय भी शामिल थे.

एक फेसबुक यूजर ने ‘धूम मचा ले’ हॉर्न वाले वायरल वीडियो को शेयर करते हुए अंग्रेजी में कैप्शन लिखा जिसका हिंदी अनुवाद है, “आखिरकार जब जहाज स्वेज नहर से चला तो उस पर धूम की धुन वाला हॉर्न बजाया गया. 100% भारतीय चालक दल!”

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि सोशल मीडिया पर शेयर हो रहे स्वेज नहर के वीडियो में ‘धूम मचा ले’ धुन वाले हॉर्न का ऑडियो अलग से जोड़ा गया है.

धूम की धुन में हॉर्न बजाने वाले जहाज का वीडियो शेयर करते हुए ऐसी ही एक ट्विटर पोस्ट को खबर लिखे जाने तक तकरीबन 2000 लोग लाइक कर चुके थे और करीब 600 लोग रीट्वीट कर चुके थे. इस पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

क्या है सच्चाई?

वायरल वीडियो के कीफ्रेम्स को रिवर्स सर्च करने पर हमें यही वीडियो ‘टेन टीवी’ नामक अरबी भाषा के यूट्यूब चैनल पर मिला. 29 मार्च, 2021 को पोस्ट किए गए इस वीडियो में 3 मिनट 27 सेकेंड पर वायरल वीडियो वाला अंश देखा जा सकता है.

वीडियो के साथ अरबी भाषा में उसका विवरण भी लिखा है, जिसका लब्बोलुआब है, “वो पल जब जहाज आगे तरफ बढ़ने लगा जिससे स्वेज नहर का रास्ता साफ हो गया.”

इस वीडियो में दृश्य तो वायरल वीडियो वाले ही हैं, पर धूम की धुन वाले हॉर्न की आवाज नदारद है. साफ है कि किसी ने भ्रम फैलाने के मकसद से धूम हॉर्न की आवाज इस वीडियो में अलग से जोड़ी है.  

ठीक यही वीडियो arabiaweather वेबसाइट की एक रिपोर्ट में भी मौजूद है. यहां भी इसमें धूम हॉर्न वाला ऑडियो नहीं है.

एवर गिवेन के स्वेज नहर से निकलने से जुड़े वीडियो और भी कई मीडिया संस्थानों ने पोस्ट किए गए थे. इनमें से किसी भी वीडियो में धूम हॉर्न वाला ऑडियो नहीं सुनाई दे रहा. सभी में साधारण हॉर्न की आवाज ही सुनाई दे रही है. किसी मीडिया रिपोर्ट में भी धूम हॉर्न बजाए जाने का जिक्र नहीं है.  

भारत में अक्सर देखा जाता है कि बस और ट्रकों में बॉलीवुड फिल्म ‘धूम’ के शीर्षक गीत ‘धूम मचा ले’ की धुन वाले हॉर्न लगे होते हैं. ‘Dhoom bus horn ringtones’ जैसे कीवर्डस को सर्च करने से हमें एक वेबसाइट पर धूम हॉर्न के कई ऑडियो मिल गए. इन्हें डाउनलोड करके, मनमुताबिक एडिट करके किसी भी वीडियो में जोड़ा जा सकता है.

यानी ये बात स्पष्ट है कि स्वेज नहर से निकलते वक्त एवर गिवेन जहाज के धूम हॉर्न बजाने का दावा एकदम बेबुनियाद है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

स्वेज नहर से निकलते वक्त एवर गिवेन जहाज के हॉर्न से ‘धूम मचा ले’ गाने की धुन बजाई गई.

निष्कर्ष

स्वेज नहर के वायरल वीडियो में ‘धूम मचा ले’ गाने की धुन वाले हॉर्न की आवाज एडिटिंग के जरिये जोड़ी गई है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें