scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: पीएम मोदी ने नहीं किया खाली मैदान का अभिवादन, एडिट किया हुआ है ये वीडियो

वीडियो में पीएम मोदी एक खाली मैदान को देखकर अभिवादन की मुद्रा में हाथ ऊपर उठा रहे हैं. वीडियो में पास ही एक हेलीकॉप्टर दिखाई दे रहा है और कुछ सुरक्षाकर्मी भी मौजूद हैं.

फैक्ट चेक फैक्ट चेक

कांग्रेस ने 2 अप्रैल 2021 को ट्विटर पर पीएम नरेंद्र मोदी की रैली का एक वीडियो शेयर कर सबको सकते में डाल दिया. वीडियो में पीएम मोदी एक खाली मैदान को देखकर अभिवादन की मुद्रा में हाथ ऊपर उठा रहे हैं. वीडियो में पास ही एक हेलीकॉप्टर दिखाई दे रहा है और कुछ सुरक्षाकर्मी भी मौजूद हैं. कांग्रेस के हैंडल से इस वीडियो को शेयर करते हुए अंग्रेजी में कैप्शन लिखा गया, जिसका हिंदी अनुवाद है, “एक और ओवरसाइट?”

दरअसल ‘ओवरसाइट’ शब्द के जरिये कांग्रेस ने यहां बीजेपी सरकार पर तंज कसा था कि क्या पीएम मोदी की ये हरकत भी एक गलती थी. ‘ओवरसाइट’ शब्द इन दिनों काफी चर्चा में है क्योंकि इसे हाल ही में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने इस्तेमाल किया था. 31 मार्च 2021 को सरकार ने वित्त वर्ष 2021-22 की पहली तिमाही के लिए छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती करने का ऐलान किया था. लेकिन  अगले ही दिन निर्मला सीतारमण ने बयान दिया कि छोटी बचत की ब्याज दरों में कटौती का फैसला वापस लिया जा रहा है और ये आदेश ‘ओवरसाइट’ यानी चूक की वजह से जारी हो गया था. इसी शब्द को भुनाते हुए कांग्रेस ने पीएम मोदी पर कटाक्ष किया.

इस ट्वीट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है. हालांकि, बाद में कांग्रेस ने ये ट्वीट डिलीट कर दिया, लेकिन तब तक बहुत सारे सोशल मीडिया यूजर इसे शेयर कर चुके थे.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि सोशल मीडिया पर नरेंद्र मोदी के खाली मैदान को देखकर हाथ हिलाने का जो वीडियो शेयर किया जा रहा है, उसे एडिट करके धुंधला किया गया है और उसकी आवाज हटाई गई है. असली वीडियो जयनगर, पश्चिम बंगाल में हुई मोदी की रैली का है जिसमें भीड़ भी देखी जा सकती है और भीड़ की आवाज भी सुनी जा सकती है.

कांग्रेस से जुड़ी रेशमा आलम ने 17 सेकंड के इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, “जिन्हें भीड़ नजर नहीं आ रही है, उन्हें अपनी आंखों का चेकअप करवाना चाहिए.”

खबर लिखे जाने तक रेशमा के वीडियो को तकरीबन दो हजार लोग रीट्वीट कर चुके थे.

क्या है सच्चाई?

कीवर्ड सर्च के जरिये हमें पता चला कि वायरल वीडियो 1 अप्रैल 2021 को जयनगर, पश्चिम बंगाल में हुई प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली का है. वीडियो तब बनाया गया जब मोदी हेलीकॉप्टर से जयनगर पहुंचे ही थे और रैली में आए लोगों का हाथ हिलाकर अभिवादन कर रहे थे.

मोदी के जयनगर आगमन और अभिवादन के वीडियो को बंगाल बीजेपी ने अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया था. 49 सेकंड के इस वीडियो के शुरुआती 17 सेकंड्स में वायरल वीडियो वाला हिस्सा देखा जा सकता है. इस वीडियो के साथ बंगाली भाषा में कैप्शन लिखा है, जिसका हिंदी अनुवाद है, “जयनगर के लोगों ने अपने प्यारे प्रधानमंत्री का बंगाल की अध्यात्मिक भूमि पर स्वागत किया.”  

इस वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि लोगों की भीड़ पीएम मोदी से काफी दूरी पर, सुरक्षा घेरे के पीछे मौजूद थी. वीडियो को जानबूझकर धुंधला किया गया ताकि लोग न दिखें और इसकी आवाज भी पूरी तरह हटा दी गई.

असली वीडियो को कई मीडिया वेबसाइट्स ने भी अपने सोशल मीडिया पेजों पर शेयर किया था.

यानी, ये बात साफ है कि पीएम मोदी की जयनगर, बंगाल रैली के वीडियो को धुंधला करके और उसकी आवाज हटाकर ये भ्रम फैलाया जा रहा है कि उन्होंने खाली मैदान को देखकर अभिवादन में अपने हाथ उठाए.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

प्रधानमंत्री मोदी ने एक रैली में खाली मैदान के सामने अभिवादन करने की मुद्रा में हाथ उठाए.

निष्कर्ष

नरेंद्र मोदी की जयनगर, पश्चिम बंगाल की रैली के वीडियो को धुंधला करके इसकी आवाज हटा दी गई है. असली वीडियो में मोदी रैली में आई भीड़ का हाथ उठाकर अभिवादन कर रहे हैं.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें