scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: क्या हेलमेट न पहनने पर पुलिस ने इन युवकों को पीटा?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि दो पुलिस वाले दो युवकों को डंडों से पीट रहे हैं.

X
वायरल वीडियो से ली गई तस्वीर वायरल वीडियो से ली गई तस्वीर

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में देखा जा सकता है कि दो पुलिस वाले दो युवकों को डंडों से पीट रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि ये युवक बिना हेलमेट पहने गाड़ी चला रहे थे, जिसके चलते पुलिस वालों ने इन्हें पकड़ लिया.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पड़ताल में पाया कि वायरल हो रहे वीडियो के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. यह वीडियो पुराना है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन युवकों को कर्नाटक के कोडागु में पुलिस ने एक कॉलेज के बाहर लड़कियों से छेड़छाड़ करने के आरोप में पकड़ा था.

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

फेसबुक पर वायरल इस वीडियो के साथ कैप्शन में लिखा जा रहा है: 'अगर आपने हेलमेट नहीं लगाया तो इन पुलिस वालों को मारने का अधिकार किसने दिया...'

वीडियो के साथ किए जा रहे दावे की पड़ताल के लिए हमने इस वीडियो के की फ्रेम्स काटे और इनमें से एक को रिवर्स सर्च किया तो हमें इस मामले से जुड़ी मीडिया रिपोर्ट मिल गई. खबर के अनुसार कर्नाटक के कोडागु में कुछ लोगों ने कथित तौर पर इन युवकों को एक कॉलेज के पास लड़कियों से छोड़छाड़ करते देखा. जिसके बाद लोगों ने उन्हें पीटना शुरू कर दिया और फिर उन्हें विराजपत पुलिस के हवाले कर दिया.

बताते चलें कि कानूनन पुलिस को आरोपी को पीटने की इजाजत नहीं होती, लिहाजा वीडियो में दिख रहे पुलिसकर्मियों के बर्ताव का 'आजतक' समर्थन नहीं करता.

मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन

केंद्र सरकार के मोटर व्हीकल एक्ट में संशोधन करने के बाद से अब तक कर्नाटक सरकार ने नए नियमों को नहीं अपनाया है. ताजा खबरों के अनुसार कर्नाटक सरकार इन नियमों को जुर्माने में कटौती के साथ लागू कर सकती है.

पड़ताल में साफ हुआ कि पुलिस ने वायरल वीडियो में नजर आ रहे युवकों को हेलमेट न पहनने के कारण नहीं पकड़ा था.

फैक्ट चेक

फेसबुक यूजर 'Sunny singh moldhiyar'

दावा

हेलमेट नहीं पहनने पर पुलिस वालों ने युवकों को पीटा

निष्कर्ष

पुलिस ने इन युवकों को लड़कियों से छेड़छाड़ करने के आरोप में पकड़ा था.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक यूजर 'Sunny singh moldhiyar'
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें