scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: एक घर पर हमला कर रहे बीजेपी कार्यकर्ताओं का ये वीडियो नहीं है पश्चि‍म बंगाल का

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें बीजेपी के कार्यकर्ता पुलिस का घेरा तोड़कर एक घर पर पथराव करते और कुर्सियां फेंकते दिख रहे हैं. इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि इस तरह बीजेपी पश्चि‍म बंगाल में शांति भंग कर रही है.

वायरल तस्वीर वायरल तस्वीर

विधानसभा चुनाव के पहले पश्चिम बंगाल में राजनीति काफी गर्मायी हुई है. इस तनावपूर्ण सियासी उठापटक के बीच, सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें बीजेपी के कार्यकर्ता पुलिस का घेरा तोड़कर एक घर पर पथराव करते और कुर्सियां फेंकते दिख रहे हैं. इस वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि इस तरह बीजेपी पश्चि‍म बंगाल में शांति भंग कर रही है.

कई फेसबुक यूजर इस वीडियो को शेयर करके तंज करते हुए लिख रहे हैं, “अगर किसान दिल्ली में दंगा फैला रहे हैं तो क्या BJP बंगाल में शांति की स्थापना करने में लगी हुई है?” 

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि ये वीडियो प‍श्चि‍म बंगाल का नहीं, बल्कि‍ तेलंगाना का है. बीती 31 जनवरी को राम मंदिर चंदा अभियान पर कथित आपत्तिजनक टिप्पणी करने के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने वारंगल के टीआरएस विधायक सीडी रेड्डी के घर पर हमला किया था.

वायरल पोस्ट के आर्काइव यहां और यहां देखा जा सकता है.

क्या है घटना

वीडियो को ध्यान से देखने पर हमने पाया कि वीडियो में एक पुलिस वाहन भी मौजूद है जिसपर "वारंगल पुलिस" लिखा है.

इस सुराग के आधार पर इंटरनेट पर हमने कुछ कीवर्ड्स सर्च किए तो इस घटना के बारे में हमें कई वीडियो और खबरें मिलीं.

हिंदुस्तान टाइम्स” में 1 फरवरी को छपी खबर में ऐसी ही एक तस्वीर का इस्तेमाल किया गया है जिसमें बीजेपी कार्यकर्ता एक घर पर प्लास्टि‍क की कुर्सियां फेंक रहे हैं. रिपोर्ट के मुताबिक, तेलंगाना के वारंगल से टीआरएस विधायक सीडी रेड्डी के आवास पर हमला करने के लिए 39 बीजेपी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया था.

द न्यूज मिनट” ने भी इस घटना पर खबर छापी थी जिसमें ऐसी ही सूचनाएं मौजूद हैं.

एक यूट्यूब चैनल “LatestLY”  पर इसी घटना का वीडियो 2 फरवरी को अपलोड किया गया था, जिसका शीर्षक है, “तेलंगाना के वारंगल में टीआरएस विधायक के घर पर हमला और पत्थरबाजी करने पर बीजेपी के कार्यकर्ता गिरफ्तार.”  

खबरों के मुताबिक, रेड्डी ने आरोप लगाया था कि बीजेपी नेता अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के नाम पर बड़ी मात्रा में धनराशि इकट्ठा कर रहे हैं और बिना कोई हिसाब-किताब दिए इसमें गड़बड़ी कर रहे हैं. उनके इस बयान के बाद बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनके घर पर हमला किया.

इस तरह हम कह सकते हैं कि एक घर पर पत्थरबाजी और तोड़फोड़ करते बीजेपी कार्यकर्ताओं का ये वीडियो पश्चिम बंगाल का नहीं, बल्कि तेलंगाना का है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

इस वीडियो में देखा जा सकता है कि पश्चि‍म बंगाल में बीजेपी के कार्यकर्ता कैसे अशांति फैला रहे हैं.

निष्कर्ष

यह वायरल वीडियो पश्चि‍म बंगाल का नहीं, बल्कि तेलंगाना है. वारंगल से टीआरएस विधायक सीडी रेड्डी ने राम मंदिर चंदा अभि‍यान को लेकर विवादित टिप्पणी की थी, जिसके बाद 31 जनवरी को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उनके घर पर हमला किया था.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें