scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: बिल गेट्स और कोरोना वायरस के बीच संबंध जोड़ने वाली यह तस्वीर है फर्जी

तस्वीर को देखकर लगता है कि किसी खेत में लगी फसल को एक पैटर्न में काटा गया है और उसकी तस्वीर ली गई है. बहुत से सोशल मीडिया यूजर्स ने इस तस्वीर को शेयर किया है और साथ में कैप्शन में लिखा है कि यह क्रॉप सर्किल हाल ही में दिखाई दिया, जिसमें कोरोना वायरस की तस्वीर और माइक्रोसॉफ्ट का लोगो शामिल है. यह बिल गेट्स और वायरस के बीच संबंध होने की तरफ इशारा करता है?

X
जानिए इस तस्वीर का सच जानिए इस तस्वीर का सच

एक तरफ दुनिया कोरोना महामारी से लड़ रही है, दूसरी तरफ सो​शल मीडिया अफवाहों और फेक न्यूज से भरा पड़ा है. इसी बीच एक तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब शेयर की जा रही है जो फसल काटकर बनाए गए डिजाइन (क्रॉप सर्किल) की है. इसमें कोरोना वायरस की तस्वीर के बीच में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का लोगो दिख रहा है. इस तस्वीर के साथ सोशल मीडिया यूजर्स इशारा कर रहे हैं कि माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स और कोरोना वायरस के बीच कुछ न कुछ संबंध जरूर हैं.

तस्वीर को देखकर लगता है कि किसी खेत में लगी फसल को एक पैटर्न में काटा गया है और उसकी तस्वीर ली गई है. बहुत से सोशल मीडिया यूजर्स ने इस तस्वीर को शेयर किया है और साथ में कैप्शन में लिखा है, “यह क्रॉप सर्किल हाल ही में दिखाई दिया, जिसमें कोरोना वायरस की तस्वीर और माइक्रोसॉफ्ट का लोगो शामिल है. यह बिल गेट्स और वायरस के बीच संबंध होने की तरफ इशारा करता है?”

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वायरल हो रही तस्वीर फोटोशॉप की मदद से बनाई गई है. क्रॉप सर्किल की असली तस्वीर 2004 की है, जिसे इंग्लैंड के विल्टशायर में एक गेहूं के खेत में बनाया गया था.

fact-check_050820034140.jpg

हमने पाया कि क्रॉप सर्किल की दूसरी तस्वीरें भी मौजूद हैं जो अलग-अलग एंगल से बनाई गई हैं.

दरअसल, कुछ हफ्तों से कई सोशल मीडिया यूजर्स बिल गेट्स पर निशाना साध रहे हैं. उनका दावा है कि दुनिया भर में कोरोना वायरस के फैलने का संबंध बिल गेट्स से है. इसी तरह का एक दावा वायरल हो रहा है जिसमें कहा जा रहा है कि माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक द्वारा स्थापित एक शोध संस्थान ने कोरोना वायरस का निर्माण किया. एक अन्य दावा किया जा रहा है कि बिल गेट्स ने एक वैक्सीन विकसित की है जो कि एक माइक्रोचिप के माध्यम से दुनिया को और इसकी जनसंख्या को नियंत्रित करेगी.

Covid-19 महामारी को बिल गेट्स से जोड़ने के षड्यंत्रों के बारे में यहां विस्तार से पढ़ा जा सकता है.

जाहिर है कि क्रॉप सर्किल की तस्वीर में छेड़छाड़ करके उसमें कोरोना वायरस और माइक्रोसॉफ्ट के लोगो को एक साथ दिखाया गया है. माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल गेट्स और कोरोना महामारी के बीच संबंध होने के दावे भी गलत हैं. 7 मई की शाम तक दुनिया भर में 38.5 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं और 2.66 लाख लोगों की मौत हो चुकी है.

फैक्ट चेक

फेसबुक यूजर

दावा

हाल ही में एक क्रॉप सर्किल सामने आया जिसमें कोरोना वायरस के बीच माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का लोगो दिखाता है, यह इशारा है कि बिल गेट्स और वायरस के बीच संबंध है.

निष्कर्ष

वायरल तस्वीर, क्रॉप सर्किल की असली तस्वीर के साथ छेड़छाड़ करके बनाई गई है. असली तस्वीर 2004 में इंग्लैंड में खींची गई थी.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
फेसबुक यूजर
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें