scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: भारत का नहीं है पानी में नमाज अदा करते लोगों का ये वीडियो

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसके साथ दावा किया जा रहा है कि अम्फान तूफान की वजह से बंगाल में लोगों को पानी के बीच खड़े होकर ईद की नमाज पढ़नी पड़ी. इस दावे में कितनी सच्चाई है....जानने के लिए पढ़िए पूरी खबर.

वायरल वीडियो का स्क्रीन शॉट वायरल वीडियो का स्क्रीन शॉट

पिछले सप्ताह आए अम्फान तूफान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में भारी तबाही मचाई थी. इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें घुटनों तक के पानी में कतार बनाकर खड़े लोग प्रार्थना करते नजर आ रहे हैं. वीडियो के साथ दावा किया जा रहा है कि तूफान की वजह से बंगाल में लोगों को पानी के बीच खड़े होकर ईद की नमाज पढ़नी पड़ी.

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि वायरल हो रहा वीडियो भारत का नहीं, बल्कि बांग्लादेश का है. अम्फान तूफान ने बांग्लादेश में काफी तबाही मचाई थी.

पोस्ट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

फेसबुक यूजर "Abdul Azeem" ने यह वीडियो शेयर करते हुए कैप्शन में लिखा: "*बंगाल मे तूफान की वजह से ईद की नमाज़..*…".

यह वीडियो फेसबुक पर काफी वायरल है.

AFWA की पड़ताल

वायरल वीडियो के कीफ्रेम्स काटकर जब हमने रिवर्स सर्च किया, तो हमें बांग्लादेश की न्यूज वेबसाइट डेली बांग्लादेश पर इससे संबंधित न्यूज रिपोर्ट मिली. 25 मई को प्रकाशित हुई इस खबर के अनुसार, बांग्लादेश के खुलना जिले के उपजिला कोयरा में अम्फान तूफान के कारण 11 जगह से बांध टूट गया था. ये लोग इस बांध की मरम्मत कर रहे थे, जिसके चलते इन्होंने पानी में ही सुबह 11 बजे ईद की नमाज अदा की.

अम्फान तूफान ने भारतीय राज्य पश्चिम बंगाल और ओडिशा में काफी नुकसान किया है. पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार 29 मई को कहा कि पश्चिम बंगाल में अम्फान की वजह से अब तक 98 लोगों की मौत हुई है. इसके चलते सड़कों पर पेड़ गिरने और कई इलाकों में पानी भरने की घटनाएं हुई हैं. वहीं करंट लगने से कुछ लोगों की मौत भी हुई है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

अम्फान तूफान के कारण बंगाल में लोगों ने पानी में खड़े होकर ईद की नमाज अदा की.

निष्कर्ष

वायरल हो रहा वीडियो बंगाल का नहीं, बल्कि बांग्लादेश का है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें