scorecardresearch
 

सीमापर आतंक की फैक्ट्री, हर टेरर कमांडर का कर रहे हैं सफाया: जनरल बिपिन रावत

चीन क्या पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन है पूछे जाने पर बिपिन रावत ने कहा कि यह आने वाले दिनों में पता चलेगा कि चीन दुश्मन है या नहीं. वर्तमान में सरहद पर शांति है. आने वाले सालों में यह पता चलेगा कि हमें चीन से खतरा है या नहीं और उसके अनुसार हम कदम उठाएंगे.

बिपिन रावत बिपिन रावत

एजेंडा आजतक के अहम सत्र ताकत वतन की तुमसे है में देश के सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने शिरकत की. इस सत्र का संचालन श्वेता सिंह ने किया. इस सत्र के दौरान बिपिन रावत ने कहा कि लाइन ऑफ कंट्रोल पर हमारे पर एंटी-ट्रेसपासिंग यंत्र हैं लेकिन सीमा के उस पार से पाकिस्तान सेना की फायरिंग के बीच आतंकी सरहद को पार करने में सफल हो जाते हैं.

बिपिन रावत ने यह भी कहा कि आतंक की राह छोड़कर मुख्यधारा में लौटने वाले हर युवा का सेना स्वागत करेगी. उन्हें समाज में वापस लौटाने के लिए सेना की पूरी प्र‍क्र‍िया है, जिसके तहत उन्हें हर तरह की मदद देने की कोश‍िश हो रही है. बिपिन रावत ने कहा कि भारतीय सेना के लिए हर आतंकी ग्रुप एक समान है. सभी पर एक सामान कार्रवाई की जा रही है.

चीन क्या पाकिस्तान से बड़ा दुश्मन है पूछे जाने पर बिपिन रावत ने कहा कि यह आने वाले दिनों में पता चलेगा कि चीन दुश्मन है या नहीं. वर्तमान में सरहद पर शांति है. आने वाले सालों में यह पता चलेगा कि हमें चीन से खतरा है या नहीं.

देश के सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने वर्तमान केंद्र सरकार की भी जमकर तारीफ की. उनके अनुसार वर्तमान सरकार पिछली सरकारों के मुकाबले ज्यादा सपोर्ट देती है. मिलिट्री ऑपरेशन में सरकार ने पूरा सपोर्ट दिया है. सेना अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने कहा कि सरकार और सेना तालमेल के साथ काम कर रही है.

बिपिन रावत ने यह भी कहा कि अगर सेना के पास राइट टु स्ट्राइक(हड़ताल) नहीं है तो अच्छी बात है. हमें अनुशासन में रहकर काम करना होता हे. हम अनुशासन से नहीं हटेंगे. वहीं बिपिन रावत ने कहा कि नई पीढ़ी साहस के जज्बे से भारतीय सेना में आती रहे तो हमें हमेशा सफलता मिलती रहेगी.

हाफिज सईद को टार्गेट करने के सवाल पर जनरल रावत ने कहा कि सेना की कोशिश है कि आतंकी कमांडर को निशाना बनाया जाए. जनरल रावत के मुताबिक किसी आतंकवादी को टार्गेट करने में दिक्कत यह होती है कि उनका आप सफाया करते जाएं और नए आतंकी पैदा होते रहेंगे, क्योंकी सीमापर आंतक की पूरी फैक्ट्री चल रही है. लिहाजा, भारतीय सेना अब कमांडर को टार्गेट कर रही है और इस दिशा में अहम सफलताएं मिली है. हालांकि जनरल रावत ने कहा कि जो भटके हुए भारतीय नौजवान आतंकियों के बहकावे में आ गए हैं और अब सुधरना चाहते हैं तो उसके लिए पूरी प्रक्रिया बनी हुई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें