scorecardresearch
 

प्रत्यूषा बनर्जी की मौत के 5 साल बाद बोले विकास गुप्ता- एक्ट्रेस को कर चुके डेट

उन्होंने कहा कि प्रत्यूषा को ब्रेकअप के बाद उनकी बाइसेक्शुएलिटी के बारे में पता चला. एक लीडिंग डेली से बात करते हुए विकास गुप्ता ने कहा कि केवल दो महिलाएं, जिन्हें उन्होंने कभी डेट किया था, उनके सेक्शुअल ओरिएंटेशन के बारे में जानती हैं. इसमें एक प्रत्यूषा थीं, जबकि दूसरी महिला के बारे में जानकारी देने से उन्होंने इनकार कर दिया.

विकास गुप्ता विकास गुप्ता

एक्टर और 'बिग बॉस' कंटेस्टेंट विकास गुप्ता एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं. विकास ने खुलासा किया है कि उन्होंने दिवंगत एक्ट्रेस प्रत्यूषा बनर्जी को कुछ समय के लिए डेट किया था. उन्होंने कहा कि प्रत्यूषा को ब्रेकअप के बाद उनकी बाइसेक्शुएलिटी के बारे में पता चला. एक लीडिंग डेली से बात करते हुए विकास गुप्ता ने कहा कि केवल दो महिलाएं, जिन्हें उन्होंने कभी डेट किया था, उनके सेक्शुअल ओरिएंटेशन के बारे में जानती हैं. इसमें एक प्रत्यूषा थीं, जबकि दूसरी महिला के बारे में जानकारी देने से उन्होंने इनकार कर दिया.

विकास ने कही यह बात
उन्होंने कहा, "प्रत्यूषा को इसके बारे में तब पता चला जब हमारा ब्रेकअप हो गया. हम थोड़े समय के लिए साथ थे. ब्रेकअप का कारण यह होगा कि कुछ लोगों ने मेरे बारे में उससे बुरा बोला होगा. लेकिन मैं डिटेल में नहीं जाना चाहता, क्योंकि वह अब दुनिया में नहीं है. ब्रेकअप के बाद मैं उससे बहुत नाराज था. जब मैंने उसे एक बार सड़क पर देखा तो मैंने उसे अवॉइड किया. मुझे प्रत्यूषा पसंद थी. मैं एक बड़ा प्रोजेक्ट उसके साथ करना चाहता था. काश''

प्रत्यूषा बनर्जी ने साल 2016 में आत्महत्या कर ली थी. उसके बॉयफ्रेंड राहुल राज सिंह पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था. उसके बारे में बात करते हुए विकास ने कहा, "राहुल राज सिंह के बारे में मुझे जो सीन याद है, वह यह है कि वह अस्पताल के बाहर चिप्स खा रहे थे (जब प्रत्यूषा की आत्महत्या से मौत हो गई थी). मैंने यह देखने के लिए एंटर किया कि मकरंद मल्होत्रा आसपास थे और वह लोगों को बुला रहे थे. प्रत्यूषा ने राहुल से पहले मकरंद को डेट किया था और वह उसके जीवन का सबसे प्यारा रिश्ता था."

इन सेलेब्स पर केस करेंगे विकास गुप्ता, कहा- मेरी खामोशी को कमजोरी समझा गया

विकास ने साल 2019 में प्रत्यूषा की मौत के तीन साल पूरे होने पर उन्हें श्रद्धांजलि दी थी. विकास ने लिखा था, " हर बार जब मैं सुनता हूं कि यह अप्रैल फूल का दिन है. मैं आपके बारे में सोचता हूं. प्रत्यूषा मुझे वह कॉल याद है जो मुझे लगा कि यह एक प्रैंक कॉल थी और यह मुझे उन 20 मिनट की याद दिलाती है जिस दौरान मैं अकेला बैठकर देखता रहा था आपको. दूसरों को अभी तक पता नहीं था कि आप चली गई हैं.''

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें