scorecardresearch
 

जब अटल ने माधुरी दीक्ष‍ित से मिलने उन्हें गेट से वापस बुलाया

पूर्व प्रधानमंत्री अटल ब‍िहारी वाजपेयी और माधुरी दीक्षि‍त नेने से जुड़े 2 मजेदार किस्से.

अटल ब‍िहारी वाजपेयी, माधुरी दीक्ष‍ित अटल ब‍िहारी वाजपेयी, माधुरी दीक्ष‍ित

पूर्व प्रधानमंत्री अटल ब‍िहारी वाजपेयी जहां भी जाते थे, कई किस्से-कहानियां उनके साथ खुद-ब-खुद जुड़ जाते थे. अटल बिहारी वाजपेयी से जुड़ा ऐसा ही एक वाकया समता पार्टी की पूर्व अध्यक्ष जया जेटली ने शेयर किया है.

जया जेटली ने एक तस्वीर टि्वटर पर शेयर की है, जो उनकी बेटी अदिति और पूर्व क्रिकेटर अजय जडेजा की शादी की है. इसमें अटल बिहारी वाजपेयी और माधुरी दीक्ष‍ित ने श‍िरकत की थी. जया ने बताया कि जब माधुरी जाने लगीं तो अटलजी ने उन्हें मिलने के लिए गेट से वापस बुलाया.

अटल बिहारी का माधुरी से जुड़ा एक अन्य वाकया भी है. वरिष्ठ पत्रकार राशीद किदवई के अनुसार, एक ऑफ‍िश‍ियल लंच के दौरान अटल ब‍िहारी वाजपेयी को ज्यादा गुलाब जामुन खाने से रोकने के लिए उनके सहयोगियों ने माधुरी दीक्ष‍ित का सहारा लिया था.  किदवई ने पीटीआई को बताया कि लंच के दौरान वाजपेयी स्ट्र‍िक्ट डाइट पर थे, इसके बावजूद वे बार-बार काउंटर की ओर जा रहे थे. अटल ब‍िहारी जायकेदार खाने के बेहद शौकीन थे.

अटलजी को श्रद्धांजलि देने के लिए यहां क्लिक करें

बता दें कि अटल ब‍िहारी वाजपेयी के नि‍धन से फिल्म जगत भी दुखी है. लता मंगेशकर ने लिखा है, "ऋषि तुल्य पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी के स्वर्गवास की वार्ता सुनके मुझे ऐसे लगा जैसे मेरे सर पर पहाड़ टूटा हो. क्योंकि मैं उनको पिता समान मानती थी और उन्होंने मुझे अपनी बेटी बनाया था." उन्होंने कहा, "मुझे वो इतने प्रिय थे कि मैं उनको दद्दा कहके बुलाती थी. आज मुझे वैसा दुख हुआ है जैसे मेरे पिता जी के स्वर्गवास के समय हुआ था. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे."

उन्होंने कहा, "मुझे ऐसा लगता है कि भारत से आज एक साधु पुरुष चला गया. वे बहुत अच्छे लेखक और कवि थे. उनके भाषण सुनने के लिए लोग तरसते थे." लता ने कहा, "अटलजी के भाषण में सब सच होता था. वे सच्चे और अच्छे इंसान थे. कभी किसी का दिल नहीं दुखाया. उनकी कोशिश होती थी कि सब ठीक रहें, ठीक हो. मैं उनको पिता समान मानती थीं."

वाजपेयी के खिलाफ खूब हुई चुनावी मशक्कत, कभी नहीं हरा पाए फिल्मी सितारे

प्रिंयका ने अटल जी को याद करते हुए कहा- ''अटल जी की दूरदर्शी सोच और देश के लिए उनका योगदान अतुलनीय है. देश उन्हें हमेशा याद रखेगा. उनके परिवार के लिए मेरी संवेदनाएं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दे.'' अटल जी 93 वर्ष के थे और काफी वक्त से बीमार चल रहे थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें