scorecardresearch
 

3 शादियां, रेखा संग अफेयर, विवादित रही इस एक्टर की पर्सनल लाइफ

कई दफा बेहद साधारण रोल में भी विनोद मेहरा ने अपनी एक्टिंग की बदौलत जान फूंक दी. फिल्मों के अलावा वे अपनी लव लाइफ की वजह से भी चर्चा में रहे.

विनोद मेहरा संग रेखा विनोद मेहरा संग रेखा

विनोद मेहरा बॉलीवुड के शानदार एक्टर्स में से एक रहे हैं. भले ही वे मेनस्ट्रीम एक्टर के तौर पर खुद को स्थापित ना कर पाए हों मगर उन्होंने अपने अभिनय के दम पर फिल्म इंडस्ट्री में एक खास जगह जरूर बनाई. उन्होंने कभी भी छोटे रोल्स निभाने में आनाकानी नहीं की. अपने अभिनय के जरिए कई दफा बेहद साधारण से रोल में भी उन्होंने अपनी शानदार एक्टिंग की बदौलत जान फूंक दी. विनोद मेहरा का जन्म 13 फरवरी 1945 को अमृतसर में हुआ था.

साल 1958 में उन्होंने फिल्म रागिनी से अपने फिल्मी करियर की शुरुआत की थी. फिल्म में उन्होंने किशोर कुमार के युवावस्था का रोल प्ले किया था. लाल पत्थर, अमर प्रेम, अनुराग, कुंवारा बाप और अर्जुन पंडित जैसी फिल्मों में उन्होंने शानदार अभिनय किया. फिल्मों के अलावा अपनी लव लाइफ की वजह से भी वे चर्चा में रहे.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, सबसे पहले विनोद मेहरा का नाम ''एक थी रीटा'' फिल्म की एक्ट्रेस मीना ब्रोका संग रहा. दोनों का प्यार परवान चढ़ा और दोनों ने 70 के दशक की शुरुआत में शादी कर ली. शादी के कुछ समय बाद ही विनोद मेहरा को उनका पहला हार्ट अटैक आया. विनोद तो ठीक हो गए मगर दोनों के रिश्ते में दूरियां आती गईं.

इसके बाद विनोद मेहरा के जीवन में अपने जमाने की खूबसूरत एक्ट्रेस बिंदिया गोस्वामी ने एंट्री मारी. दोनों को प्यार हुआ और दोनों लिव इन में रहने लगे. मेहरा शादीशुदा थे इसलिए वे बिंदिया संग शादी नहीं कर सकते थे. वहीं दूसरी तरफ उनकी पहली पत्नी मीना के परिवारवाले विनोद पर बिंदिया से दूर रहने का दबाव बना रहे थे. कुछ समय तक चीजें चोरी-छिपे चलीं इसके बाद विनोद और बिंदिया का रिलेशनशिप भी बिगड़ने लगा. माना जाता है कि दोनों ने गुपचुप शादी भी कर ली थी. वहीं 80 के दशक के शुरुआती दौर में विनोद की पॉपुलैरटी कम होने लग गई थी. इस बीच बिंदिया की नजदीकियां जेपी दत्ता संग बढ़ने लग गई थीं. इस वजह से विनोद-बिंदिया के रिश्ते का अंत हुआ.

जब रेखा संग प्यार में पड़े

रिपोर्ट्स की मानें तो बिंदिया से अलग होने के बाद विनोद मेहरा के जीवन में रेखा ने एंट्री मारी. दोनों की ऑनस्क्रीन केमिस्ट्री को भी खूब पसंद किया गया था. दोनों एक साथ वक्त बिताने लगे. विनोद की पर्सनल लाइफ जहां एक तरफ पटरी पर नहीं थी वहीं दूसरी तरफ रेखा भी अमिताभ बच्चन से दूर होने के बाद काफी अकेली हो गई थीं. आखिरकार दोनों दिल आपस में मिले और दोनों कब एक अच्छे दोस्त से हमसफर बन गए पता ही नहीं चला. दोनों के गुपचुप शादी करने की खबरें आने लगीं. मगर विनोद की मां को ये रिश्ता मंजूर नहीं था. खबरें तो ये भी आईं कि रेखा के साथ वे अच्छा बर्ताव नहीं करती थीं. इस कारण उनका रिश्ता भी टूट गया.

अंत में विनोद मेहरा की लाइफ में किरन नाम की लड़की आई. अपना बाकी जीवन उन्होंने किरन के साथ ही बिताया. 1990 में विनोद मेहरा को आखिरी बार हार्टअटैक आया. इस बार वे नहीं बच सके. 30 अक्टूबर 1990 को उनका निधन हो गया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें