scorecardresearch
 

कुछ इस तरह बॉलीवुड में हीरो की बनी बनाई परिभाषा तोड़ना चाहती हैं तापसी पन्नू

अनुराग कश्यप की फिल्म सांड की आंख में जल्द नजर आने वाली एक्ट्रेस तापसी पन्नू ने एक बातचीत में कहा कि मुझे लगता है कि हीरो का कोई जेंडर नहीं होता है और मैं इसे साबित करने की कोशिश कर रही हूं.

तापसी पन्नू तापसी पन्नू

दशकों से बॉलीवुड में हीरो का मतलब एक जैसा ही रहा है. हालांकि एक्ट्रेस तापसी पन्नू हीरो के इस बने बनाए जेंडर स्टीरियोटाइप को तोड़ना चाहती हैं. 31 साल की तापसी पन्नू मानती हैं कि महिला केंद्रित फिल्मों को इंडस्ट्री और दर्शकों द्वारा खुले दिल से अपनाने के बाद इस तरह का बदलाव लाया जा सकता है.

तापसी ने पीटीआई से एक बातचीत में कहा कि मुझे लगता है कि हीरो का कोई जेंडर नहीं होता है और मैं इसे साबित करने की कोशिश कर रही हूं. हम इतने सालों से अपने दर्शकों को एक बने बनाए ढांचे का हीरो देते आ रहे हैं. मुझे पता है कि ये बदलाव रातोरात नहीं आ सकता है और अभिनेत्रियों को अपनी तरफ से भी सुनिश्चित करना होगा कि वे इस बदलाव में भागीदार बनें.

गौरतलब है कि तापसी की पिछली फिल्म गेम ओवर को क्रिटिक्स ने जबरदस्त प्रतिक्रिया दी थी, लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर खास प्रदर्शन नहीं कर पाई. फिल्म में तापसी का मुख्य किरदार था और उन्होंने इस फिल्म से साबित किया था कि फिल्म का सबसे बड़ा हीरो स्क्रिप्ट होती है. हालांकि तापसी को उम्मीद थी कि ये फिल्म कमर्शियल एक सफल फिल्म साबित हो ताकि बाकी लोग भी भविष्य में इन तरह ही फिल्मों के साथ रिस्क उठा सकें.

View this post on Instagram

Communication established with onboard satellite. #MissionMangal Trailer will be good to go at 1:30PM today. @akshaykumar @aslisona @balanvidya @sharmanjoshi @nithyamenen @iamkirtikulhari @foxstarhindi #HopeProductions #JaganShakti @zeemusiccompany

A post shared by Taapsee Pannu (@taapsee) on

तापसी पन्नू की पिछली दो रिलीज़ फिल्में बदला और गेम ओवर को क्रिटिक्स का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला. बदला ने तो बॉक्स ऑफिस पर बेहतरीन कारोबार भी किया, लेकिन गेम ओवर कलेक्शन के मामले में खास कमाल नहीं दिखा पाई. तापसी मानती हैं कि फिल्म इंडस्ट्री एक बदलाव के दौर से गुजर रही हैं और इस स्पेस में सभी अच्छी फिल्मों को अपनाया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि गेम ओवर एक डार्क फिल्म थी. इस फिल्म में ना तो गाने थे, ना कॉमेडी सीन थे, हालांकि फिल्म की सिनेमाटोग्राफी अच्छी थी. मगर इसके बावजूद लोगों ने इस फिल्म को प्यार दिया. ऐसी फिल्मों को ऑडियन्स से एक ट्रस्ट फैक्टर की दरकार होती है.

View this post on Instagram

When people ask me if I am scared of voicing my opinion ...... #YouThinkICare #RestingBitchFace #NoFuxGiven 📷: @khamkhaphotoartist

A post shared by Taapsee Pannu (@taapsee) on

एक्ट्रेस ने कहा कि मैं इस दबाव में काम नहीं कर रही हूं कि मुझे एक निश्चित ढांचे में फिट होकर फिल्में करनी हैं ताकि मेरी फिल्में ज्यादा से ज्यादा बिजनेस कर सकें. मैं एक एक्टर के तौर पर अपना दायरा बढ़ाने की कोशिश कर रही हूं.

वर्कफ्रंट की बात करें तो तापसी की दो फिल्में रिलीज़ हो रही हैं. इन फिल्मों का नाम मिशन मंगल और सांड की आंख है. मिशन मंगल में तापसी के साथ अक्षय कुमार, विद्या बालन और नित्या मेनन जैसे सितारे नजर आएंगे. इसके अलावा सांड की आंख में तापसी भूमि पेडनेकर और विनीत कुमार सिंह के साथ दिखाई देंगी. इन फिल्मों के अलावा तापसी एक तमिल एक्शन थ्रिलर में भी काम कर रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें