scorecardresearch
 

भाभी करीना की राह पर चलीं सोहा अली खान

बॉलीवुड की हीरोइनों में इन दिनों ऑन स्क्रीन जर्नलिस्ट बनने का क्रेज कुछ ज्यादा ही नजर आ रहा है. करीना कपूर और प्रीति जिंटा के बाद अब बारी सोहा अली खान की है.

X
सोहा अली खान
सोहा अली खान

बॉलीवुड की हीरोइनों में इन दिनों ऑन स्क्रीन जर्नलिस्ट बनने का क्रेज कुछ ज्यादा नजर आ रहा है या यूं कहें कि बॉलीवुड इस पेशे को अपनी फिल्मों में खास तवज्जो देने लगा है. तभी तो मधुर भंडारकर की मीडिया पर बनी फिल्म ‘पेज 3’ हो, ‘लक्ष्य’ में प्रीति ज़िंटा हो, ‘सत्याग्रह’ में करीना कपूर हो या फिर फराज़ हैदर की पहली वॉर कॉमेडी फिल्म ‘वॉर छोड ना यार’ में सोहा अली खान हो, सभी ने इस रोल को चुना.

पटौदी खानदान की बिटिया सोहा अली खान की बात करें तो अपनी भाभी करीना कपूर के नक्शे कदम पर चलते हुए सोहा ने न सिर्फ जर्नलिस्ट की भूमिका निभाई है बल्कि उनसे एक कदम आगे बढकर वॉर जर्नलिस्ट रुत दत्ता की मुकम्मल तस्वीर पेश करने की कोशिश की. हालांकि कई लोगों को आज भी इस बात में संदेह है कि छुईमुई सी नजर आनेवाली सोहा ने आखिर इतने रफ़ टफ प्रोफेशन को पर्दे पर साकार कैसे किया? इस सवाल का जवाब डायरेक्टर फराज हैदर ने कुछ यूं दिया, ‘’अपनी काया से सोहा भले ही छुई-मुई सी नजर आएं लेकिन सच तो यह है कि वह काफी मैच्योर एक्टर हैं. आप खुद रंग दे बसंती, मुंबई मेरी जान और खोया खोया चांद जैसी फिल्में देखिए.

इनमें सोहा की एक्टिंग काबिलेतारीफ थी. उनके इन्हीं गुणों पर गौर करते हुए हमनें यह किरदार सोहा को सौंपा है. हालांकि सच यह भी है कि सोहा का नाम बॉलीवुड के चुनिंदा प्रतिभाशाली कलाकारों में लिया जाता है. रही बात उनके किरदार रुत दत्ता के रियल वॉर जर्नलिस्ट बरखा दत्त से प्रेरित होने की तो ऐसा नहीं है. दोनों में जमीन आसमान का अंतर है. जब आप फिल्म देखेंगे आपको यह अंतर अपने आप पता चल जाएगा.’’ चलिए, इंतजार करते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें