scorecardresearch
 

शिवसेना की धमकी के बाद गजल गायक गुलाम अली का पुणे कंसर्ट भी रद्द

शिवसेना की धमकी के बाद पुणे में पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. यह कंसर्ट 10 अक्‍टूबर को पुणे में होना था.

X
गुलाम अली
गुलाम अली

शिवसेना की धमकी के बाद पुणे में पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली का कार्यक्रम रद्द कर दिया गया है. यह कंसर्ट 10 अक्‍टूबर को पुणे में होना था.

श‍िवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे के बेटे आदित्य ठाकरे ने कहा, 'हम सबको गुलाम अली के गाने पसंद हैं. लेकिन हमें हमारे सैनिकों के लिए कुछ संवेदनशीलता की भी जरूरत है.'

आदित्य ठाकरे ने बताया, 'हर जगह मुठभेड़ हो रही है, हर जगह गोलीबारी हो रही है. ऐसे माहौल में हम कैसे आंनद ले सकते हैं.'

उमर अब्दुल्ला ने कहा, 'यह बहुत ही निंदनीय है. मैंने हाउस में ऐसा बर्ताव पहली बार देखा है.'

इससे पहले शिवसेना ने मुंबई में होने वाले गुलाम अली के कार्यक्रम में बाधा डालने की धमकी दी थी. बांदेकर ने कहा, 'हम पाकिस्तान की कला और पाकिस्तानी कलाकारों की इज्जत करते हैं. लेकिन, हम पाकिस्तान के साथ किसी भी तरह के सांस्कृतिक संबंध के खिलाफ हैं क्योंकि यह देश सीमा पर लगातार हमारे नागरिकों और सैनिकों पर हमले कर रहा है.'

उन्होंने कहा कि शिवसेना सिर्फ मुंबई या पुणे ही नहीं, देश में कहीं भी गुलाम अली का कार्यक्रम नहीं होने देगी. इससे पहले शिवसेना पाकिस्तानी क्रिकेट टीम और पाकिस्तानी गायक आतिफ असलम का विरोध कर चुकी है.

अधिकारियों ने कहा कि मुंबई और पुणे के कार्यक्रम में गुलाम अली के शामिल होने से कानून व्यवस्था के लिए दिक्कत पैदा हो सकती है. यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह दुनिया भर में मशहूर कलाकार की सुरक्षा की जिम्मेदारी ले.

गुलाम अली के कार्यक्रम के विरोध पर पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कहा, 'इस तरह का विरोध पाकिस्तान में नहीं होता है. हम अपने आर्टिस्टों को सरहद के दोनों तरफ आयोजन के लिए प्रोत्साहित करते हैं. हमारी नीति एकदम रचनात्मक है.'

अब्दुल बासित ने दावा किया कि जब भारत के गायक पाकिस्तान आते हैं, तो उनके कार्यक्रम का इस तरह विरोध नहीं होता है. उन्होंने कहा कि इस तरह के विरोध की इजाजत किसी को नहीं मिलनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें