scorecardresearch
 

न हलचल न हंगामा, भूल भुलैया में गायब हो गया कॉमेडी किंग डायरेक्टर?

हेरा-फेरी, गरम मसाला, खट्टा-मीठा, भागमभाग और भुल भूलैया जैसी कई बेहतरीन कॉमेडी फिल्में बनाने वाले प्रियदर्शन ने अक्षय कुमार और सुनील शेट्टी जैसे सितारों की एक्शन छवि को तोड़ते हुए उन्हें कॉमेडी सुपरस्टार बना दिया है.

अक्षय कुमार औ परेश रावल फिल्म हेराफेरी के एक दृश्य में, निर्देशक प्रियदर्शन अक्षय कुमार औ परेश रावल फिल्म हेराफेरी के एक दृश्य में, निर्देशक प्रियदर्शन

बॉलीवुड में लगातार कई सुपरहिट कॉमेडी देने वाले डायरेक्टर प्रियदर्शन आज अपना 63वां जन्मदिन मना रहे हैं. प्रियदर्शन का जन्म साल 1957 में केरल में हुआ था. उनके पिता कॉलेज में लाइब्रेरियन थे तो उनका किताबों की तरह रुझान बढ़ता चला गया. वे अपने टीनेज दिनों में काफी किताबें पढ़ते थे और ये सिलसिला आगे भी चलता रहा. उन्होंने फिलोसॉफी में मास्टर्स ऑफ आर्ट्स की डिग्री ली.

उन दिनों में मोहनलाल, सुरेश कुमार, सनल कुमार जैसे कलाकार उनके दोस्त थे. मोहनलाल के फिल्मों में जाने के बाद प्रियदर्शन ने भी चेन्नई का रुख किया और मोहनलाल की मदद से वे स्क्रिप्टराइटर के तौर पर काम करने लगे और उनकी कुछ फिल्मों ने साउथ इंडस्ट्री के बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन भी किया.

View this post on Instagram

#seniors #juniors #aap #tum #tou #babu #babubhaiya #babubhai #start #free #with #you #instead #calling #tu #university #school #college #uni

A post shared by Memes (@memesfun19) on

इसके कुछ सालों बाद वे मलयालम फिल्में डायरेक्ट करने लगे. साल 1999 में आई फिल्म हेराफेरी ने प्रियदर्शन के करियर को बॉलीवुड में पूरी तरह जमा दिया. इस फिल्म के बाद ही अक्षय कुमार और सुनील शेट्टी जैसे सितारों की एक्शन छवि भी टूटी और दोनों ने इसके बाद कई शानदार कॉमेडी फिल्मों में काम किया. ये फिल्म आज क्लट क्लासिक फिल्म के तौर पर शुमार की जाती है.

फोटोग्राफर्स को देख क्यों भागने लगे अक्षय कुमार, वीडियो हुआ वायरल

प्रियदर्शन ने बनाई ये फिल्में

प्रियदर्शन पहले ऐसे डायरेक्टर थे जिन्होंने भारत में रिच कलर ग्रेडिंग, क्लीयर साउंड और क्वालिटी डबिंग जैसी चीजों को अपनी शुरुआत की मलयालम फिल्मों में इस्तेमाल किया था. वे अपनी मलयालम फिल्मों को बॉलीवुड में भी रीमेक किया करते थे. ऐसी फिल्मों में हेरा फेरी, हंगामा, हलचल, गरम मसाला, भागमभाग, चुपचुपके, ढोल और भुल भूलैया जैसी शानदार कॉमेडी फिल्में शामिल हैं. उन्होंने अपनी फिल्मों में कई बार अक्षय कुमार, मनोज जोशी, ओमपुरी, परेश रावल, जैकी श्रॉफ, राजपाल यादव, शक्ति कपूर और सुनील शेट्टी जैसे दिग्गज सितारों के साथ काम किया है. साल 2007 में उनकी तमिल फिल्म कांचीवरम को नेशनल अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था. साल 2012 में उन्हें पद्मश्री अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था.

बॉलीवुड में 1999 के बाद एक दशक से भी ज्यादा समय तक उन्होंने कई मजेदार कॉमेडी फिल्में बनाई और ये दशक कॉमेडी के मामले में पूरी तरह से प्रियदर्शन के नाम रहा. हालांकि 2010 में अक्षय कुमार के साथ खट्टा-मीठा के बाद उन्होंने मलयालम सिनेमा पर एक बार फिर फोकस करना शुरू कर दिया और बॉलीवुड में ज्यादा काम नहीं किया.

रणबीर के साथ शमशेरा की शूटिंग पूरी कर इमोशनल वाणी, शेयर किया पोस्ट

हालांकि पिछले कुछ समय से ये अटकलें भी चल रही हैं  कि वे एक बार फिर अपनी आइकॉनिक फिल्म हेरा फेरी का तीसरा पार्ट ला सकते हैं और हाल ही में सुनील शेट्टी ने भी इसे कंफर्म किया था कि इस फिल्म की स्क्रिप्ट पर काम चल रहा है लेकिन पिछले कुछ सालों में ऑडियन्स का टेस्ट काफी ज्यादा चेंज हुआ है और आज के दौर में कॉमेडी फिल्में एंटरटेनिंग होने के साथ ही साथ खास सोशल मैसेज भी देती दिखती हैं. ऐसे में देखना ये होगा कि प्रियदर्शन क्या एक बार फिर अपना जादू चला पाते हैं या नहीं ? 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें