scorecardresearch
 

नरगिस एक सधी अदाकारा जिसके लाड प्यार में 'बिगड़' गया अपना ही बेटा

नरगिस संजय को लेकर ओवर-प्रोटेक्टिव थीं और अधिकतर मांओं की तरह कई बार उनकी गलती होने पर भी उनका बचाव करती थीं. सुनील दत्त इसके मुकाबले थोड़े सख्त थे लेकिन वे जब-जब संजय दत्त पर सख्ती दिखाते, नरगिस की ममता इसमें ढाल बन जाती.

मां नरगिस के साथ संजय दत्त मां नरगिस के साथ संजय दत्त

बॉलीवुड की मशहूर अदाकारा नरगिस उन अभिनेत्रियों में थीं जिन्होंने इतिहास रचा. मदर इंडिया, आवारा, बरसात और श्री 420 जैसी फिल्मों में लीडिंग लेडी का रोल करने वालीं नरगिस परदे पर एक कामयाब अभिनेत्री थीं. वे अपने बेटे संजय दत्त से बेहिसाब प्यार भी करती थीं. खुद संजय दत्त ने एक बार कहा कि उनके गलत रास्ते पर चले जाने के पीछे एक स्वाभाविक वजह मां से मिला लाड़ प्यार भी रही.

दरअसल, नरगिस संजय को लेकर ओवर-प्रोटेक्टिव थीं और अधिकतर मांओं की तरह कई बार उनकी गलती होने पर भी उनका बचाव करती थीं. संजय के पिता सुनील दत्त इसके मुकाबले थोड़े सख्त थे लेकिन वे जब-जब संजय दत्त पर सख्ती दिखाते, मां नरगिस की ममता इसमें ढाल बन जाती.

संजय दत्त के एक करीबी दोस्त ने भी इस बात का खुलासा एक इंटरव्यू में किया. उन्होंने बताया, "संजय दत्त की बायोपिक फिल्म में चीजों को इस तरह से दिखाया गया है कि संजय दत्त ने कुछ भी गलत नहीं किया. बल्कि वास्तविकता में ऐसा नहीं है." उतार चढ़ावों से भरी रही संजय दत्त की जिंदगी के गलत रास्ते पर जाने में नरगिस के प्यार का हाथ रहा इस बात का खुलासा कई अन्य इंटरव्यू में भी हो चुका है.

3 मई 1981 के दिन ही 51 वर्ष की उम्र में पैनक्रिएटिक कैंसर के चलते नरगिस की मौत हो गई. कहा जाता है कि जिस वक्त नरगिस का निधन हुआ उस वक्त भी संजय दत्त नशे की हालत में थे. कई रिपोर्ट्स यह भी बताती हैं कि नरगिस के निधन के बाद संजय बहुत टूट गए थे और इसके बाद उन्होंने काफी ज्यादा नशा करना शुरू कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें