scorecardresearch
 

सुशांत केस: CBI जांच का नोटिफिकेशन जारी, बिहार सरकार ने की थी सिफारिश

बिहार की नीतीश सरकार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी. उनकी इस मांग को केंद्र ने स्वीकार कर लिया था. इससे पहले केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह मामले की जांच सीबीआई को सौंप रही है.

सुशांत सिंह राजपूत (फाइल फोटो) सुशांत सिंह राजपूत (फाइल फोटो)

सुशांत सिंह राजपूत के आत्महत्या मामले की सीबीआई जांच का नोटिफिकेशन जारी हो गया है. कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) ने बुधवार को नोटिफिकेशन जारी किया. बिहार की नीतीश सरकार ने मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश की थी. उनकी इस मांग को केंद्र ने स्वीकार कर लिया था. इस बीच, सीबीआई ने कहा है कि हमें नोटिफिकेशन मिल गया है.

इससे पहले केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि वह मामले की जांच सीबीआई को सौंप रही है. आज ही केंद्र सरकार ने बिहार सरकार की सिफारिश को मंजूर करते हुए सुशांत सिंह की मौत की जांच सीबीआई को सौंपी, लेकिन मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच चुका है. लिहाजा सीबीआई जांच होगी या नहीं ये फैसला अब कोर्ट के हवाले हो चुका है.

ये भी पढ़ें- सुशांत सिंह राजपूत केसः परिवार और दोस्तों ने वायरल किए व्हाट्सएप चैट

सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई में भी CBI जांच के मुद्दे पर बहस हुई. सुशांत के परिवार के वकील ने दलील दी कि मुंबई पुलिस पर भरोसा नहीं है वो सबूतों से छेड़छाड़ कर सकती है. इसका विरोध करते हुए महाराष्ट्र सरकार ने कहा कि मुंबई पुलिस जांच करने में सक्षम है. इस पर कोर्ट ने कहा कि सुशांत काफी टैलेंटेड और उभरते हुए कलाकार थे और उनकी रहस्यमयी तरीके से मौत होना जांच का विषय है.

ये भी पढ़ें- दिशा का सुशांत की मौत से है कनेक्शन, SC में जांच के लिए पहुंची याचिका

सुशांत सिंह की मौत के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दखल तो दिया, लेकिन पहली सुनवाई में न तो बिहार पुलिस की मुराद पूरी हुई न ही मुंबई पुलिस को कोई बड़ी राहत मिली. कोर्ट ने आज जो आदेश दिए वो ये हैं...

- सुशांत के परिवार को, बिहार सरकार को, महाराष्ट्र सरकार को और केंद्र सरकार को नोटिस जारी किए हैं.

- सभी पक्षों को 3 दिनों में अपना जवाब सुप्रीम कोर्ट में देना होगा.

- महाराष्ट्र सरकार को अब तक की जांच पर रिपोर्ट भी देनी होगी.

- बिहार के IPS अफसर को क्वारनटीन पर महाराष्ट्र सरकार को फटकार लगी.

- CBI जांच को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं.

- मामले की सुनवाई अगले हफ्ते होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें