scorecardresearch
 

सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों और आर्टिस्ट्स पर बैन के समर्थकों से अक्षय ने कहा, 'शर्म करो'

अक्षय कुमार ने वीडियो शेयर कर सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों और पाकिस्तानी आर्टिस्ट्स पर बैन लगाने पर विवाद खड़ा करने वालों के लिए कहा 'शर्म करो'.

अक्षय कुमार अक्षय कुमार

बॉलिवुड स्टार अक्षय कुमार ने ऐसे लोगों को जम कर आड़े हाथ लिया है जो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांग रहे है या आर्टिस्ट्स को बैन करने की मांग कर रहे हैं. इस तरह की बहस करने वालों को अक्षय कुमार ने शर्म करने के लिए कहा है. अक्षय ने जोर देकर कहा है कि पहले उन जवानों के परिवारों की चिंता करनी चाहिए जिन्होंने देश के लिए जान दे दी.

अक्षय कुमार ने अपने फेसबुक वॉल पर एक वीडियो मैसेज डाला है. इस मैसेज में अक्षय ने कहा है-'आज मैं आप से एक स्टार या सेलेब्रिटी की तरह बात नहीं कर रहा हूं, मैं आप से बात कर रहा हूं एक आर्मीमैन के बेटे की तरह. कई दिनों से देख रहा हूं न्यूज या न्यूजपेपर्स में अपने ही लोगों को अपनों से बहस करते हुए. कोई सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग रहा है. कोई आर्टिस्ट्स को बैन करने की मांग कर रहा है. कोई डर रहा है कि वॉर होगी या नहीं. अरे शर्म करो...अरे यार ये सब बहस बाद में कर लेना, पहले ये तो सोचो सरहद पर किसी ने जान दे दी है. 19 जवान उरी अटैक में शहीद हो गए. एक 24 साल का जवान नितिन यादव बारामुला में शहीद हो गया. क्या उनकी फैमिली या हमारे हजारों फौजियों के परिवारों को चिंता होगी कि कोई फिल्म रिलीज होगी या नहीं? कोई आर्टिस्ट बैन होगा या नहीं? उनकी सिर्फ एक चिंता है उनका भविष्य. और हमारी चिंता है उनका वर्तमान और भविष्य सही होना चाहिए. अगर वो हैं तो आज मैं हूं, वो हैं तो आज आप हैं, वो नहीं तो हिंदुस्तान नहीं, जय हिंद...'


अक्षय ने इस पोस्ट से जहां सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगने वालों को आइना दिखाया हैं वहीं पाकिस्तानी आर्टिस्ट्स पर बैन लगाने की मांग करने वालों को भी आड़े हाथ लिया है. अक्षय का एक ही संदेश है कि सबसे पहले सरहद पर लड़ने वाले हमारे जवान हैं. साथ ही जो जवान देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देते हैं, उनके परिवारों की बेहतरी हमारी सबसे पहली चिंता होनी चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें