scorecardresearch
 
मनोरंजन

विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है

विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 1/7
भारत में औरतों के साथ जैसा व्यवहार किया जाता है उसे देखकर दुनिया भले चकित हो, लेकिन हमारी विज्ञापन की दुनिया में ऐसे विज्ञापनों की भरमर है, जिनमें औरतों को मजबूत और दृढ़ निश्चयी बताया गया है. जो अपनी खूबसूरती अच्छे पति या घरेलू काम में दक्षता की बजाए अपनी उपलब्ध‍ियों के लिए पहचानी जाना चाहती हैं. आगे की स्लाइड्स में देखें ऐसे विज्ञापन, जिनमें नए दौर की भारतीय नारी हैं:
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 2/7
बीवी बॉस भी और बावर्ची भी
एयरटेल के विज्ञापन में आधुनिक जोड़ा दिखाया गया है, जिसमें दफ्तर में पति की बॉस महिला घर में एक आम पत्नी की तरह है. अपने बनाए पकवानों की तस्वीर भेजकर वह अपने पति को घर आने के लिए बुलाती है.
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 3/7
ब्रेव एंड ब्यूटीफुल
डाबर वाटिका का विज्ञापन कैंसर पीड़‍ित महिलओं को समर्पित है. एक युवा मां और पत्नी, जिसके बाल कैंसर के उपचार के कारण झड़ गए, उसके साहस, सौंदर्य और गरिमा के लिए उसके परिजन और सहकर्मी उसे प्यार और सम्मान देते हैं.
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 4/7
वुमनिया
बैकग्राउंड में बॉलीवुड का जाना-माना गीत 'ओ वुमनिया...' बजता है और महिला घर की जरूरत और सजावट की नई खरीदने के लिए सेलफोन के जरिए पुरानी चीजें बेच देती हैं. वह भी पति के मनाही के बावजूद और इसमें महिला की सास भी उसका साथ देती है.
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 5/7
शादी न कर
तनिष्क के विज्ञापन में पोती की शादी के लिए खरीदारी करती एक दादी. पोती को अपनी जात में शादी नहीं करने की सलाह देती हैं. पोती जब वजह पूछती है तो दादी का जवाब होता है, क्योंकि वह बोरिंग है.
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 6/7
सच्चा प्यार
भारत मैट्र‍िमोनी के एक विज्ञापन में सफल शादी का नुस्खा बताया गया है. इसमें एक व्यक्त‍ि भोजन के दौरान अपने माता-पिता को बताता है कि उसकी पत्नी सिर्फ पैसा कमाने के लिए काम नहीं करती है बल्क‍ि इसलिए करती है क्योंकि उसे अच्छा लगता है.
विज्ञापन जिन्हें देखकर आंखे नम होती है, दिल भरता है, चेहरे पर मुस्कुराहट आती है
  • 7/7
महिलाओं के सम्मान में
हैवेल्स के विज्ञापनों की एक सीरीज में बताया गया है कि महिलाएं केवल रसोईघर तक सीमित नहीं हैं. इन विज्ञापनों में भी घरेलू काम करने का आदेश देते पतियों को करारा जवाब देती और महिलाओं का सम्मान करने की सीख देती पत्न‍ियां दिखाई गई हैं.