scorecardresearch
 
मनोरंजन

आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर

आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 1/6
सुशांत सिंह राजपूत की फिल्म दिल बेचारा का ट्रेलर 6 जुलाई को रिलीज किया गया. फिल्म 24 जुलाई को डिज्नी हॉटस्टार पर रिलीज होगी. फिल्म के ट्रेलर को काफी पसंद किया जा रहा है. फिल्म में संजना संघी सुशांत के अपोजिट रोल में हैं. ट्रेलर में दिखाया गया है कि संजना संघी कैंसर पीड़ित हैं. ट्रेलर से साफ है कि फिल्म काफी इमोशनल कर देने वाली है. दिल बेचारा से पहले भी कई फिल्मों में कैरेक्टर्स कैंसर से जूझते नजर आए.
आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 2/6
करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन की फिल्म ऐ दिल है मुश्किल में भी एक कैरेक्टर ने कैंसर मरीज का रोल प्ले किया है. फिल्म में अनुष्का शर्मा कैंसर मरीज बनी हैं जो एक वक्त में एक अलग-थलग जिंदगी बिताने लगती हैं. हालांकि, रणबीर उन्हें खोजते हुए पहुंच जाते हैं और उनकी केयर करते हैं.
आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 3/6
फिल्म आनंद में पहली बार बॉलीवुड में कैंसर जैसी बीमारी का जिक्र बड़े स्तर पर हुआ था. फिल्म में राजेश खन्ना जिनका नाम आनंद होता है उन्हें एक तरह का कैंसर होता है. फिल्म में अमिताभ बच्चन ने एक डॉक्टर का रोल प्ले किया है. फिल्म में ये जानते हुए की भी उनकी मौत निश्चित है, जिंदगी के प्रति राजेश खन्ना के नजरिए को खूब पसंद किया गया. साथ ही आनंद में अमिताभ की एक सख्त और फिर बाद में दोस्त बन जाने वाले डॉक्टर के तौर पर खूब तारीफ हुई.
आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 4/6

फिल्म मुन्नाभाई एमबीबीएस में भी कैंसर का जिक्र है. इस फिल्म में जिमी शेरगिल ने एक कैंसर मरीज का रोल प्ले किया है. जब उन्हें अचानक पता चलता है कि उन्हें कैंसर है तो उनकी जिंदगी हिल जाती है. वे घर में अपनी जिम्मेदारियों को लेकर चिंतित हो जाते हैं. उनकी टेंशन दूर करने के लिए मुन्नाभाई और शॉर्ट सर्किट हॉस्पिटल में एक पार्टी तक रख देते हैं. इस बीमारी के बीच टेंशन को दूर कैसे किए जाए इसे ही प्ले किया गया है.
आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 5/6

कट्टी बट्टी में इमरान खान और कंगना रनौत लीड रोल में हैं. 2015 में आई इस फिल्म में दोनों ने माधव और पायल का किरदार निभाया है. एक दिन अचानक पायल यानी की कंगना बिना बोले कहीं चली जाती हैं. 5 साल का रिलेशन अचानक से टूट जाता है. इमरान खान अपने प्यार को खोजते रहते हैं और आखिर में उन्हें पता चलता है कि पायल की कैंसर से मौत होने वाली है. स्टोरी की बहुत ही इमोशनल एडिंग होती है.

आनंद से लेकर कट्टी-बट्टी तक, जब फिल्मों के कैरेक्टर को हुआ कैंसर
  • 6/6

राजेश खन्ना और शर्मिला टैगोर कि फिल्म सफर में भी इस बीमारी का जिक्र है. फिल्म 1970 में आई थी. फिल्म में अशोक कुमार और फिरोज खान ने भी अहम किरदार निभाया था. इस फिल्म में शर्मिला टैगोर ने एक डॉक्टर का किरदार निभाया है. उस जमाने में फिल्म काफी हिट हुई थी और फिल्म के कई प्लेटफॉर्म पर अवॉर्ड्स भी मिले थे.