scorecardresearch
 

लालू-नीतीश के 'मांझी' बने जीतनराम, कहा- वीके सिंह के खिलाफ कार्रवाई करें PM मोदी

बिहार में बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के जीतनराम मांझी ने केंद्रीय मंत्री वीके सिंह के खिलाफ खुलकर कार्रवाई की मांग की है.

जीतनराम मांझी जीतनराम मांझी

बिहार में बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ रही हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के जीतनराम मांझी ने केंद्रीय मंत्री वीके सिंह के खिलाफ खुलकर कार्रवाई की मांग की है. चुनावी अभियान के बीच इस मांग ने बीजेपी की मुश्किलें बढ़ा दी हैं. मांझी ने कहा है कि वीके सिंह ने दलितों की तुलना कुत्तों से की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए.

बीजेपी के लिए खड़ी की दुविधा
मांझी ने लालू प्रसाद और नीतीश कुमार के सुर में सुर मिलाते हुए कहा है कि वीके सिंह के खिलाफ ऐसी कार्रवाई होनी चाहिए, ताकि दोबारा कोई नेता दलितों के खिलाफ इस तरह का बयान देने का दुस्साहस कभी न करे. बिहार में मांझी बड़े दलित नेता हैं. बीजेपी को उनके सहारे करीब 10 फीसदी महादलित वोटों की उम्मीद है. ऐसे में बीजेपी के लिए सामने दुविधा बन सकती है.

यह कहा था वीके सिंह ने
बल्लभगढ़ की घटना पर वीके सिंह ने कहा था कि यह परिवार का मसला था. हर मुद्दे पर केंद्र सरकार को कोसना बंद करें. कोई कुत्ते को पत्थर मार दे उसमें केंद्र सरकार क्या कर सकती है.' उनके इस बयान की चौतरफा निंदा की गई. हालांकि इसके बाद सिंह ने सफाई में माफी मांगते हुए कहा कि उनका मकसद दलितों की तुलना कुत्तों से करने से नहीं था.

फरीदाबाद की घटना से दुखी
मांझी ने कहा है कि वह फरीदाबाद की घटना से बेहद दुखी हैं, जहां दलित परिवार के चार लोगों को जिंदा जला दिया गया. उन्होंने कहा कि किसी जाति या घर में जन्म लेना इंसान के हाथ में नहीं होता. अगर किसी ने दलित परिवार में जन्म लिया है तो उसका क्या कसूर?

दूसरे सहयोगियों ने भी दी नसीहत
बिहार में बीजेपी की दूसरी सहयोगी पार्टी ने भी बीजेपी नेताओं को इस तरह के विवादास्पद बयानों से बचने की सलाह दी है. राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उपेंद्र कुशवाहाने कहा कि बीजेपी नेताओं को इस तरह के बयान नहीं देने चाहिए.

कांग्रेस ने भी घेरा
कांग्रेस ने भी केंद्रीय मंत्री वीके सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग तेज कर दी है. प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने कहा है कि बीजेपी वीके सिंह के खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रही, इसका मतलब है कि उन्होंने जो कुछ भी कहा वह उसके समर्थन में है.

स्वामी अग्निवेश ने की महेश शर्मा को हटाने की मांग
स्वामी अग्निवेश ने कहा कि अल्पसंख्यक आयोग की रिपोर्ट कहती है कि दादरी की घटना पूर्वनियोजित थी. लेकिन संस्कृति मंत्री कहते हैं कि यह हादसा था. रिपोर्ट आने के बाद उन्हें हटाया क्यों नहीं गया. किसी भी व्यक्ति को किसी दूसरे को मारने का अधिकार नहीं है. हम अटेली भी गए, लेकिन मुस्लिम वहां डरे हुए हैं. उन्हें घुमा-फिराकर कहा जा रहा है कि वे वहां से चले जाएं. इसे रोकने के लिए पीएम को आगे आना होगा.

लालू ने किया तीखा प्रहार
लालू प्रसाद ने वीके सिंह के बयान पर बीजेपी पर तीखा प्रहार करते हुए कहा कि उन्हें चुल्लू भर पानी में डूब जाना चाहिए.

नीतीश ने कहा- हरियाणा में मंगलराज है क्या
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर रैली में बीजेपी पर निशाना साधा. कहा कि बिहार में जंगलराज और हरियाणा में दलित बच्चे को जिंदा जला दिया गया, वो मंगलराज है क्या.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें