scorecardresearch
 

Exit Poll: सियासी पंडितों को क्यों हैरान कर सकते हैं हरियाणा के नतीजे

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक, हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों में से बीजेपी को 32 और 44 के बीच सीटें मिलने का अनुमान है. जबकि 2014 विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 47 सीटों पर जीत हासिल हुई थी.

भूपेंद्र सिंह हुड्डा और मनोहर लाल खट्टर भूपेंद्र सिंह हुड्डा और मनोहर लाल खट्टर

  • हरियाणा में चौंकाने वाले आ सकते हैं नतीजे
  • बीजेपी के 75 पार टारगेट पर लग सकता है ग्रहण

हरियाणा विधानसभा के नतीजे हर बार चौंकाने वाले रहते हैं. इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के अनुमान अगर नतीजों में तब्दील होते हैं तो ये वाकई चौंकाने वाले होंगे. यानी एक बार फिर सियासी पंडितों को हरियाणा के नतीजे हैरान कर सकते हैं. 6 महीने पहले लोकसभा चुनाव में हरियाणा में क्लीन स्वीप करने वाली बीजेपी विधानसभा चुनाव में बहुमत के आंकड़े को छू नहीं पा रही है.

इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के मुताबिक, हरियाणा की 90 विधानसभा सीटों में से बीजेपी को 32 और 44 के बीच सीटें मिलने का अनुमान है. जबकि 2014 विधानसभा चुनाव में बीजेपी को 47 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. दूसरी तरफ कांग्रेस को 30 से 42 सीटें मिलने का अनुमान है. वहीं, इनेलो से टूटकर अलग पार्टी बनाने वाले दुष्यंत चौटाला किंगमेकर बनकर उभरते नजर आ रहे हैं. जेजेपी को 6 से 10 सीटें मिलती दिख रही हैं और अन्य के खाते में भी 6 से 10 सीटें मिलने का अनुमान है.

लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने किया था क्लीन स्वीप

दरअसल, 6 महीने पहले हुए लोकसभा चुनाव में बीजेपी हरियाणा की सभी 10 संसदीय सीटें जीतने में कामयाब रही थी. लोकसभा चुनाव के नतीजों से उत्साहित मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हरियाणा विधानसभा चुनाव में 75 पार का नारा दिया था. यानी प्रदेश की कुल 90 विधानसभा सीटों में से 75 सीटें जीतने का लक्ष्य रखा था.

लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजों को अगर विधानसभा सीट के लिहाज से देखें तो बीजेपी ने 90 में से 78 सीटों पर विपक्षी दलों से ज्यादा वोट हासिल किया था. इसके बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने जिस तरह से जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाकर बड़ा दांव चला, उसकी भी विपक्ष कोी काट नहीं तलाश पाया. जबकि कांग्रेस पूरे चुनाव में गुटबाजी से जूझती रही.

इसके चलते राजनीतिक पंडित भी यह मानकर चल रहे थे कि बीजेपी अपने 75 के नारे को आसानी से हासिल कर लेगी. ऐसे में इंडिया टुडे-एक्सिस माई इंडिया एग्जिट पोल के जो सर्वे सामने आए हैं, वो राजनीतिक पंडितों को निराश करने वाले हैं. हालांकि, हरियाणा की सियासत में हमेशा से नतीजे चौंकाने वाले रहे हैं. 2014 के विधानसभा चुनाव में भी चार विधायकों वाली बीजेपी 47 सीटें जीतकर हरियाणा की सत्ता पर पहली बार विराजमान हुई थी. ऐसे में अब देखना होगा कि 24 अक्टूबर को हरियाणा विधानसभा चुनाव के नतीजे क्या रहते हैं?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें