scorecardresearch
 

विदेश जाकर बनाया दुनिया का सबसे अच्छा एयर प्यूरीफायर, प्रदूषण से करेगा बचाव

प्रदूषण के बढ़ते कहर के बीच अमेरिका में रह रहे भारतीय मूल के नागरिक योगी गोस्वामी ने एक ऐसा एयर प्यूरीफायर बनाया है, जिसके लिए कहा जा रहा है कि वो वातावरण में मौजूद वायु प्रदूषकों को आसानी से खत्म कर सकता है.

फोटो साभार- ट्विटर अकाउंट फोटो साभार- ट्विटर अकाउंट

प्रदूषण के बढ़ते कहर के बीच अमेरिका में रह रहे भारतीय मूल के नागरिक योगी गोस्वामी ने एक ऐसा एयर प्यूरीफायर बनाया है, जिसके लिए कहा जा रहा है कि वो वातावरण में मौजूद वायु प्रदूषकों को आसानी से खत्म कर सकता है. गोस्वामी ने दुनिया का पहला ऐसा एयर प्यूरीफायर बनाया है, जो कि वातावरण में मौजूद खतरनाकर प्रदूषकों को पूरी तरह से खत्म कर देता है, जिसका नाम 'मोलेक्यूल' है.

बता दें कि 90 के दशक में गोस्वामी सौर ऊर्जा में करियर बनाने के लिए दिल्ली से अमेरिका चले गए थे और उन्हें पता चला कि उनके बेटे दिलीप को अस्थमा है. यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ फ्लोरिडा में प्रोफेसर योगी ने एयर प्यूरीफायर को लेकर रिसर्च शुरू की, क्योंकि उस वक्त पूरी तरह से प्रदूषण साफ करने वाला कोई प्यूरीफायर नहीं था.

8वीं के बाद छोड़ दिया था स्कूल, आज हैं करोड़ों के मालिक

योगी गोस्वामी की ओर से बनाए गए इस प्यूरीफायर को साल 2017 में टाइम्स ने टॉप 25 आविष्कारों में शामिल किया था. योगी गोस्वामी की बेटी जया गोस्वामी ने बताया कि सामान्य एयर प्यूरीफायर में स्टैंडर्ड टेक्नोलॉजी एचईपीए फिल्टर का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे बैक्टिरिया आदि से तो बचाव हो जाता है, लेकिन कई छोटे प्रदूषक इससे बच जाते हैं. हालांकि मोलेक्यूल छोटे- छोटे प्रदूषकों को पूरी तरह से हमेशा के लिए खत्म कर देता है.

DU में नहीं मिला था एडमिशन, अब Forbes ने 'युवा स्टार्स' में किया शामिल

गौरतलब है कि योगी ने दिल्ली में स्कूली पढ़ाई के साथ दिल्ली टेक्नोलॉजी यूनिवर्सिटी से मैकेनिकल इंजीनियरिंग में बीएस की डिग्री ली थी. उसके बाद वो अमेरिका चले गए, जहां उनके बेट दिलीप और बेटी जया का जन्म हुआ था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×