scorecardresearch
 

15 अगस्त को भारत के साथ ये 4 देश भी मनाते हैं आजादी का जश्न

15 अगस्‍त की तारीख को केवल भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के चार और देशों को आजादी मिली थी. जानें- इन देशों के नाम..

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

आज 15 अगस्त को देश आजादी के 71वें साल का जश्न मना रहा है. इस दिन साल 1947 में भारत अंग्रेजों की करीब 200 साल की गुलामी से आजाद हुआ था. लेकिन क्या आप जानते हैं भारत के साथ ही चार ऐसे देश और हैं, जो इसी दिन अपनी आजादी का जश्न मनाते हैं, क्योंकि 15 अगस्त के ही दिन इन देशों ने भी परतंत्रता से स्वतंत्रता की ओर कदम रखा था. आइए जानते हैं उन देशों के बारे में...

15 अगस्त भारत के अलावा तीन अन्य देशों का भी स्वतंत्रता दिवस है, जिसमें दक्षिण कोरिया, बहरीन और कांगो का नाम शामिल है. बता दें कि दक्षिण कोरिया ने जापान से 15 अगस्त, 1945 को, बहरीन ने ब्रिटेन से 15 अगस्त, 1971 को और कांगो ने फ्रांस से 15 अगस्त, 1960, लिकटेंस्टीन ने 15 अगस्त 1866 को जर्मनी से आजादी हासिल की थी. इन देशों में भी हर साल 15 अगस्त को जश्न मनाया जाता है.

खुदीराम बोस: सबसे कम उम्र में भगवद गीता को साथ लेकर ये क्रांतिकारी हुआ शहीद

कहा जाता है कि ब्रिटेन भारत को 1947 में नहीं बल्‍कि साल 1948 में आजाद करना चाहता था, लेकिन महात्‍मा गांधी के 'भारत छोड़ो आंदोलन' से परेशान होकर अंग्रजों ने भारत को एक साल पहले ही यानी 15 अगस्‍त 1947 को ही आजाद करने के विचार पर फैसला ले लिया. भारत में आजादी की जंग पहले से यानी 1930 से ही शुरू हो गई थी.

नोबेल जीतने वाले पहले भारतीय थे टैगोर, 2 देशों को दिए राष्ट्रगान

इसके अलावा भारत में आजादी को लेकर जंग ने आर-पार की कोशिश सन् 1930 से ही शुरू हो गई जब 1929 लाहौर सत्र में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने पूर्ण स्वराज घोषणा, या "भारत की आजादी की घोषणा" का प्रचार किया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें