scorecardresearch
 

जानिए कैसे बने मेडिकल लैब टेक्निशियन

अगर आप की दिलचस्पी मेडिकल फील्ड में है तो आप लैब टेक्निशियन का कोर्स कर सकते हैं. इसमें बेहतर सैलरी पैकेज के साथ नौकरी पाने के ढेरों मौके मौजूद हैं.

Lab Technician Lab Technician

अगर आप मेडिकल फील्ड में इंटरेस्टेड हैं और रिसर्च की संभावनाओं पर आपका ज्यादा ध्यान है तो आप मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी कोर्स या लैब टेक्निशियन बन सकते हैं.

मेडिकल लेबोरेट्री टेक्नोलॉजी कोर्स कौन कर सकते हैं?
मेडिकल लैब टेक्निशियन इस कोर्स को लैब रिसर्च करने के लिए करते हैं. इस कोर्स को क्लिनिकल लेबोरेट्री साइंस भी कहते हैं. इस फील्ड में डायग्नोसिस, ट्रीटमेंट और बीमारी को क्लिनिकल लेबोरेट्री टेस्ट की मदद से दूर किया जाता है.

दरअसल मेडिकल लैब टेक्निशियन किसी बीमारी की रोकथाम के लिए फिजिशियन की मदद करते हैं. लैब टेक्निशियन की ओर से किया गया टेस्ट बीमारी को पहचानने से लेकर उसके इलाज तक में सहायता पहुंचाती है. मेडिकल लेबोरेट्री टेक्नोलॉजिस्ट (MLT) बॉडी फ्लूड्स, टीसू, बल्ड टाइपिंग, माइक्रोऑर्गेनिज्म स्क्रिनिंग, केमिकल एनालिसिस, ह्यूमन बॉडी का सेल काउंट टेस्ट करते हैं और उसका विश्लेषण करते हैं. ये सैंपलिंग, टेस्टिंग, रिपोर्टिंग और डॉक्यूमेंटेशन करने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं.आपको बता दें कि दो तरह के मेडिकल लेबोरेट्री वर्कर्स होते हैं- टेक्निशियन और टेक्नोलॉजिस्ट्स

लैब टेक्निशियन इस क्षेत्र में करते हैं काम:
माइक्रोबायोलॉजी
हेमाटोलॉजी
ब्लड बैंकिंग
इम्यूनोलॉजी
क्लिनिकिल केमिस्ट्री
मोलीक्यूलर बायोलॉजी
साइटोटेक्नोलॉजी

योग्यता:
वे उम्मीदवार जो 12 साइंस स्ट्रीम से 12वीं पास किए हैं, वे इस कोर्स को कर सकते हैं.

मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में करियर:
इस क्षेत्र में अच्छी जानकारी रखने वाले चाहें तो अपना लेबोरेट्रीज, फिजिशियन ऑफिस, ब्ल्ड बैंक. मेडिकल इक्विपमेंट सेल्स कंपनी, पब्लिक हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन खोल सकते हैं. इस फील्ड में बेहतर सैलरी पैकेज पाने के अच्छे मौके उपलब्ध हैं.

जॉब रोल्स:
लैब टेक्निशियन
लेबोरेट्री मैनेजर
कंसल्टेंट
सुपरवाइजर
हेल्थ एंड सेफ्टी ऑफिसर

मेडिकल टेक्नोलॉजी कोर्स कराने वाले भारत के टॉप यूनिवर्सिटीज
कालीकट यूनिवर्सिटी
एमिटी यूनिवर्सिटी
मणिपाल यूनिवर्सिटी
जामिया हमदर्द यूनिवर्सिटी

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें