scorecardresearch
 

9 सितम्बर को होंगे जेएनयू छात्रसंघ के चुनाव

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ चुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है. नोटिफिकेशन के मुताबिक 9 सितम्बर को जेएनयूएसयू के नए पैनल के लिए चुनाव आयोजित होंगे.

JNU campus JNU campus

जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव की तारीख का ऐलान हो गया है. नोटिफिकेशन के मुताबिक 9 सितम्बर को जेएनयूएसयू के नए पैनल के लिए चुनाव आयोजित होगा. 9 सितम्बर को ही डूसू चुनाव भी आयोजित होंगे. यानि एक ही दिन दोनों प्रमुख यूनिवर्सिटी में छात्रसंघ चुनाव होंगे.

छात्रा इशिता मन्ना बनीं छात्र संघ चुनाव की चेयरपर्सन
पहली बार जेएनयू छात्र संघ की चुनाव समिति की मुख्य चुनाव अधिकारी बनने का मौका एक छात्रा को मिला है. इशिता मन्ना छात्र संघ चुनाव चेयरपर्सन हैं. जेएनयू का यह चुनाव लिंगदोह समिति की सिफारिशों के तहत किया जा रहा है. जेएनयू ने उन 16 लोगों के नाम भी जारी किए हैं जो मुख्य चुनाव अधिकारी का सहयोग करेंगे. जानकारी के अनुसार 30 अगस्त को शाम 2 बजे से पांच बजे तक नामांकन फार्म जारी किया जाएगा.

चुनाव की महत्‍वपूर्ण तारीखें:
जेएनयू छात्रसंघ चुनाव के लिए नामांकन पत्र भरने की तारीख 31 अगस्त है.
नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 1 सितंबर है. उसी दिन दोपहर 3 बजे उम्मीदवारों की फाइनल लिस्ट की घोषणा भी की जाएगी.
2 सितम्बर और 5 सितंबर को School GBMS का आयोजन होगा‍.  
6 सितम्बर को यूनिवर्सिटी जनरल बॉडी मीटिंग होगी.
7 सितम्बर को रात 9 बजे जेएनयू कैंपस में प्रेसिडेंशियल डिबेट होगी.
8 सितम्बर को नो कैम्पेन डे है यानि की उस दिन कोई भी छात्र संगठन प्रचार नहीं कर सकेंगे.
9 सितम्बर को सुबह 9.30 बजे से 1 बजे के बीच और दोपहर को 2.30 बजे से शाम 5 बजे तक वोटिंग की प्रक्रिया होगी.
9 सितम्बर की रात 9 बजे से काउंटिंग यानि की वोटों की गिनती शुरू हो जायेगी.
12 सितम्बर को जीतने वाले उम्मीदवारों के नामों की घोषणा होगी.

9 फरवरी के विवाद और कैंपस में चले स्वतंत्रता दिवस उत्सव के बाद पूरा माहौल बदला हुआ है. जेएनयू कैंपस लालगढ़ (लेफ्ट विचारधारा) की बजाए राइट विचारधारा की ओर भी झुका है. इसके अलावा कांग्रेस की छात्रसंघ इकाई एनएसयूआई की ओर भी छात्रों का झुकाव देखने को मिल रहा है. इसके चलते वामपंथी संगठन एकजुट होकर जेएनयू में चुनाव लड़ने की रणनीति बना रहे हैं. जिससे राष्ट्रवाद के नाम पर एकजुट विरोधी संगठनों का मुकाबला किया जा सके.

जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व पैनल में एआईएसएफ के कन्हैया कुमार ने अध्यक्ष, आइसा की शेहला ने उपाध्यक्ष, आइसा के ही रामा नागा ने महासचिव तो एबीवीपी के सौरभ शर्मा ने संयुक्त सचिव का पद पर जीत हासिल की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें