scorecardresearch
 

राष्ट्रपति ने तीन आईआईटी निदेशकों के नामों को मंजूरी दी

सरकार ने तीन आईआईटी निदेशकों के नामों को मंजूरी दे दी है. दरअसल एक आईआईटी के निदेशक के नाम को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी और न्यूक्लियर साइंटिस्ट अनिल काकोदकर में मतभेद था और इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था.

X
Smriti Irani Smriti Irani

सरकार ने तीन आईआईटी निदेशकों के नामों को मंजूरी दे दी है. दरअसल एक आईआईटी के निदेशक के नाम को लेकर मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी और न्यूक्लियर साइंटिस्ट अनिल काकोदकर में मतभेद था और इस मामले ने काफी तूल पकड़ा था.

गुरूवार देर रात जारी किए गए आदेशों के अनुसार भुवनेश्वर, पटना और रोपड़ के आईआईटी के निदेशक के लिए क्रमश: आर वी राजा कुमार, पुष्पक भट्टाचार्य और सरित कुमार दास के नामों को मंजूरी दी गई है.

राजा कुमार आईआईटी -खड़गपुर के संकाय सदस्य हैं जबकि भट्टाचार्य-आईआईटी बंबई में कम्प्यूटर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के प्रोफेसर और दास आईआईटी-मद्रास के प्रोफेसर हैं.

आपको बता दें कि ये नियुक्ति उस समय विवादों में आई थी जब आईआईटी बंबई के अध्यक्ष और सेलेक्शन पैनल के सदस्य अनिल काकोदकर ने आईआईटी बंबई के बोर्ड ऑफ गवर्नर्स के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. पूरा मामला यह था कि सेलेक्शन पैनल ने अपनी पहली मीटिंग में दास और भट्टाचार्य को आईआईटी भुवनेश्वर और पटना के लिए शॉर्टलिस्ट किया था. लेकिन आईटीआईटी रोपड़ को लेकर मतभेद था. सूत्रों के अनुसार आईआईटी दिल्ली के प्रोफेसर मनोज दत्ता को आईआईटी रोपड़ के लिए चुना गया था. लेकिन स्मृति ईरानी अपनी पसंद के उम्मीदवार आईआईटी कानपुर के राजीव शेखर को चुनना चाहती थीं.

सूत्रों की मानें तो दास को पहले आईआईटी भुवनेश्वर के लिए चुना गया था और बाद में उनके नाम की सिफारिश आईआईटी रोपड़ के लिए की गई. इन नामों को आईआईटी के विजिटर राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने मंजूरी दी है.

एचआरडी मंत्रालय ने कई दौर की प्रक्रिया से गुजरने के बाद इन लोगों को आइआइटी के निदेशक पदों की जिम्मेदारी सौंपी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें