scorecardresearch
 

कॉस्‍ट्यूम‍ डिजाइन में इनका कोई तोड़ नहीं, दिलाया देश को पहला OSCAR

भारत देश के लिए वो गर्व की शाम थी, जब एक कॉस्टयूम डिजाइनर ने पहली बार देश के लिए ऑस्कर अवार्ड जीता था.आप भी जानें आखिर क्या खास बात थी उनके डिजाइन में...  

Bhanu Athaiya Bhanu Athaiya

ऑस्कर हासिल करने की चाहत हर आर्टिस्ट की होती है. 1983 में ऑस्कर अवार्ड की वो शाम भारत के लिए इसलिए खास थी क्‍योंकि तब पहली बार एक महिला ने देश के लिए ऑस्कर जीता था. देश को पहला ऑस्कर अवार्ड दिलाने वाली कॉस्टयूम डिजाइनर भानु अथैया का जन्म 28 अप्रैल साल 1929 के दिन हुआ था.

ऑस्कर क्वीन के जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी कुछ खास बातें-

1. भानु अथैया का जन्म महाराष्ट्र के कोल्‍हापुर में हुआ था. उनका पूरा नाम भानुमति अन्नासाहेब राजोपाध्येय रखा गया.

 ऑस्कर अवॉर्ड की 15 रोचक बातें

2. फिल्म गांधी (1982) के लिए जॉन मोलो के साथ उन्हें बेस्ट कॉस्टयूम डिजाइन के लिए ऑस्कर अवार्ड से नवाजा गया था.

3. बचपन से ही भानु को गांधी का रेखाचित्र बनाना पसंद था.

4. जब भानू को रिचर्ड एटनबरो की अंतरराष्ट्रीय फिल्म 'गांधी' के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइन करने का मौका मिला तो उनके काम को दुनिया भर में सराहा गया. ऑस्कर अवार्ड में उनके डिजाइन को बेस्ट कॉस्टयूम डिजाइन कैटेगरी में नॉमिनेट किया गया था. 

मिलें हॉलीवुड के गॉडफादर से...

5. उन्हें फिल्म 'लेकिन' (1991) और लगान (2002) के लिए दो बार राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से भी नवाजा गया है.

6. कॉस्टयूम डिजाइन पर उन्होंने साल 2010 में 'The Art Of Costume Design' के नाम से एक किताब भी लिखी है.

...जब करियर बीच में छोड़ 'सेक्सी संन्यासी' बन गए थे विनोद खन्ना

7. भानू अथैया 50 सालों से फिल्म जगत में काम कर रही हैं. जहां वह 100 से ज्यादा फिल्मों के लिए कपड़े डिजाइन कर चुकीं है. जिनमें प्यासा, चौहदवीं का चांद और साहब बीवी और गुलाम जैसी फिल्मों में उनके डिजाइन बेहद ही पॉपुलर हुए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें