scorecardresearch
 

HC का आदेश- सिख छात्र 'कड़ा' और 'कृपाण' पहनकर दे सकेंगे NEET की परीक्षा

NEET की परीक्षा में सिख छात्र ले जा सकते हैं कड़ा और कृपाण, दिल्ली हाई कोर्ट ने दी इजाजत

kirpan (photo credit: getty) kirpan (photo credit: getty)

मेडिकल कॉलेज में एडमिशन के लिए नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (NEET) की परीक्षा 6 मई को है. जहां इस परीक्षा के लिए सीबीएसई ने छात्रों के लिए ड्रेस कोड जारी किया था. वहीं अब ड्रेस कोड को लेकर सिख समुदाय के छात्रों को राहत मिली है.

दरअसल दिल्ली हाई कोर्ट ने सिख छात्रों को ''कड़ा'' और ''कृपाण'' ले जाने की इजाजत दे दी है. जस्टिस एसआर भट और एके चावला की पीठ ने यह आदेश दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधन कमेटी की ओर से दाखिल याचिका पर दिया है. इस आदेश को देते हुए दिल्ली हाईकोर्ट ने सीबीएसई से कहा कि वह 6 मई को देशभर में होने जा रहे नीट परीक्षा के दौरान सिख समुदाय के छात्रों को ''कड़ा'' और ''कृपाण' साथ में रखने की अनुमति दे दे. बता दें, सिख छात्र को परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले परीक्षा केंद्र पहुंचना होगा.

आपको बता दें, पिछले साल हुई नीट की परीक्षा में बुर्का, ताबीज, ब्रेसलेट के साथ ही कृपाण पर भी रोक लगा दी गई थी. नीट की परीक्षा मुश्किल परीक्षा में से एक मानी जाती है. ऐसे में ये परीक्षा कड़ी निगरानी में आयोजित की जाएगी.

6 मई को होगी NEET की परीक्षा, तैयारी के लिए अपनाएं ये जरूरी टिप्स

क्या है ड्रेस कोड  

- फुल बाजू की कमीज, हाई हिल्स सैंडिल पहनकर आने वाले उम्मीदवारों को नीट की परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं दी जाएगी.

- अंगूठी, झुमके, चेन जैसे जेवरात पर भी रोक लगा दी गई है.

NEET 2018: CBSE ने जारी किए एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड

- ड्रेस कोड के अनुसार परीक्षा में हल्के कलर की हाफ बाजू की कमीज/शर्ट जिसमें कोई भी बटन लगा हो वही पहनकर आना होगा.

- हाफ बाजू कमीज के साथ पतलून या सलवार ही पहनकर आना होगा.

- यदि उम्मीदवार परंपरागत पोशाक में आता है तो उसे परीक्षा शुरू होने से एक घंटे पहले ही इसकी सूचना देनी होगी, ताकि उसकी जांच ठीक प्रकार से की जा सके.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें