scorecardresearch
 

CTET 2019: ऐसी रही पेपर 1 की परीक्षा, पढ़ें एनालिसिस

जो उम्मीदवार सीटेट के पेपर 1 की परीक्षा में शामिल हुए हैं वह जान लें कैसे रही परीक्षा और पास होने के लिए कितने अंकों की है जरूरत.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

  • CTET पेपर 1 की समाप्त हुई परीक्षा
  • पास होने के लिए लानें होंगे इतने अंक
  • यहां पढ़ें पेपर का पूरा एनालिसिस

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंड्री एजुकेशन (CBSE)  दिसंबर 2019 CTET (सेंट्रल टीचर एलिजिबिलिटी टेस्ट) परीक्षा का आयोजन आज किया गया. 13वें एडिशन की ये सीटेट परीक्षा देश भर के परीक्षा केंद्रों में कराई गई थी. आइए जानते हैं कैसी रही सीटेट की परीक्षा. यहां पढ़ें परीक्षा का पूरा एनालिसिस

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो परीक्षा के विश्लेषण के अनुसार, पेपर मध्यम स्तर का था. शिक्षक बनने के लिए  CTET परीक्षा साल में दो बार आयोजित की जाती है. हर साल लगभग 30 लाख उम्मीदवार परीक्षा के लिए उपस्थित होते हैं.

यहां देखें कैसा पेपर 1

जानिए- किन प्रश्नों के उम्मीदवारों ने दिए सबसे ज्यादा जवाब

CTET दो शिफ्टों में आयोजित की गई थी. पहली शिफ्ट सुबह और दूसरी शिफ्ट शाम. इस परीक्षा में दो पेपर आयोजित किए गए थे. पहला पेपर 1 (जो प्राथमिक स्कूल शिक्षक बनना चाहते हैं). दूसरी पेपर 2 ( जो कक्षा 6 और 7 में पढ़ाने के लिए पात्र होंगे).

परीक्षा ऑफ़लाइन मोड में आयोजित की गई थी. जिसमें उम्मीदवारों को 150 मिनट में 150 प्रश्न हल करने थे. पास होने के लिए कम से कम 90 अंक लाने होंगे. आपको बता दें, इस परीक्षा को सफल करने के लिए सामान्य श्रेणी के लिए, उम्मीदवारों को 60% की आवश्यकता होती है. वहीं OBC/SC/ST उम्मीदवारों को 55% की आवश्यकता होती है. यानी कम से कम 82 अंक लाने होंगे.  सीटेट परीक्षा क्वालिफाई करने के बाद ये सर्टिफिकेट 7 सालों के लिए मान्य होगा.

पूछे गए थे इन टॉपिक्स पर सवाल

- बाल विकास और अध्यापन (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- भाषा I (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- भाषा II (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

- गणित (30 प्रश्न)- (30 नंबर)

-  पर्यावरण अध्ययन (30 प्रश्न)- (150 नंबर)

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें