scorecardresearch
 

मध्य प्रदेश के आदिवासी इलाकों में खुलेंगे 22 नए ITI

मध्य प्रदेश में खुलने वाले 25 आईटीआई संस्थानों में से 22 संस्थान पिछड़े आदिवासी इलाकों में खोले जाएंगे.

X
symbolic image symbolic image

मध्य प्रदेश के आदिवासी स्टूडेंट्स के लिए एक अच्छी खबर है. राज्य के आदिवासी इलाकों में सरकार 22 आईटीआई खोलने जा रही है.

दरअसल राज्य सरकार ने 25 आईटीआई संस्थानों में से 22 संस्थान पिछड़े आदिवासी इलाकों में खोलने का फैसला किया है. यह जानकारी राज्य के हायर एंड टेक्निकल एजुकेशन एंड स्किल डेवेलपमेंट मिनिस्टर उमा शंकर गुप्ता ने दी.

नए आईटीआई सागर जिले के बांदा, कटनी जिले के बदवारा और सीधी के मझौली में खोले जाएंगे. इसके अलावा धार जिले के सरदारपुर, गंधवानी, बकानेर और दाही में, झाबुआ जिले के थंडाला, मेघानगर और रामा में, अलीराजपुर जिले के सोन्दवा, भीकागांव और गोगंवा में, बड़वानी जिले के सेंधवा, राजपुर, ठिकरी और पन्सेमल, रतलाम जिले के बजना, श्योपुर के काराहल,शहडोल के गोहपारु, बैतूल जिले के भीमपुर और शाहपुर, छिंदवाड़ा के हर्रई में, मंडला के बिछिया और बालाघाट के बिरसा डेवेलपमेंट ब्लॉक में खोले जाएंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें