scorecardresearch
 

UGC-NET की परीक्षा पोस्टपोन, अब 24 सितंबर से होगी, जानें वजह

16 सितंबर को होने जारी UGC-NET की परीक्षा पोस्टपोन कर दी गई है. आध‍िकारिक बयान में इसकी वजह भी बताई गई है. अब ये परीक्षा 24 सितंबर से शुरू होगी.

UGC-NET 2020 UGC-NET 2020

16 सितंबर से शुरू होने वाली यूजीसी नेट की परीक्षा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ( NTA ) ने सोमवार को स्थग‍ित कर दी है. एनटीए ने कहा है कि अब नेट की परीक्षा 24 सितंबर से शुरू होगी. फिलहाल एनटीए ने परीक्षा का विस्तृत शेड्यूल जारी नहीं किया है. बता दें कि इससे पहले नेट की परीक्षा 16 से 18 सितंबर और 21 से 25 सितंबर के बीच होनी थी.  

NTA का कहना है कि नेट परीक्षा की तारीखें आईसीएआर परीक्षाओं एआईईईए- यूजी/पीजी और एआईसीई-जेआरएफ/एसआरएफ (पीएचडी) 2020-21 परीक्षाओं का एक ही दिन था. इससे कई स्टूडेंट्स जिन्होंने दोनों परीक्षाओं के साथ ही नेट एग्जाम के लिए भी आवेदन किया है, इसी को देखते हुए नेट परीक्षा को फिर से रीशेड्यूल किया गया है, जिसे लेकर विस्तृत संशोधित समय सारणी बाद में जारी की जाएगी.  

यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट यानी यूजीसी नेट (UGC NET) कंप्यूटर आधारित परीक्षा या यूं कहें कि ऑनलाइन परीक्षा है. ये परीक्षा साल में दो बार होती है. 

बता दें कि पहले इस परीक्षा का आयोजन यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (यूजीसी) की ओर से सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकंड्री एजुकेशन (सीबीएसई) करता था. मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने दिसंबर 2018 के बाद परीक्षा का आयोजन नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) का काम नेशनल टेस्ट‍िंग एजेंसी को दिया है. उससे पहले तक 263 चुने हुए शहरों में सीबीएसई द्वारा 81 विषयों के लिए परीक्षा का आयोजन किया जाता था. 

अगर सिलेबस की बात करें तो परीक्षा में पहले तीन पेपर हुआ करते थे जिसे अब दो कर दिया गया है. पहला पेपर 1 घंटे का होता है और दूसरा पेपर 2 घंटे का होता है. परीक्षा का आयोजन कई दिनों तक दो शिफ्टों में होता है. 

UGC NET 2019 Exam Pattern जानें

नेट एग्जाम एक राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा है जिसका आयोजन यूनिवर्सिटी ग्रांट्स कमिशन (यूजीसी) की ओर से एनटीए करता है. यह क्वॉलिफाइंग एग्जाम यूनिवर्सिटियों में लेक्चररशिप के लिए है. यह जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) के लिए भी अनिवार्य है. 

पेपरों की कुल संख्या: 2

- परीक्षा में कुल 150 सवाल पूछे जाएंगे
- पहले पेपर से 50 सवाल और दूसरे पेपर से 100 सवाल पूछे जाएंगे. 
- सभी सवालों का जवाब देना अनिवार्य होता है. 
- पहले पेपर में जनरल ऐप्टिट्यूड से जुड़े सवाल होते हैं. 
- पेपर 2 में कैंडिडेट्स द्वारा चुने गए विषय से सवाल होते हैं. 

पेपर की भाषा: यूजीसी नेट के पेपर सिर्फ दो हिंदी और इंग्लिश भाषा में होते हैं. फॉर्म भरते समय भाषा का चयन जरूरी है. 

निगेटिव मार्किंग: यूजीसी नेट में एनटीए निगेटिव मार्किंग नहीं होती है. 

सवालों की संख्या

- पहले पेपर में 50 सवाल और दूसरे पेपर में 100 सवाल होते हैं. 
- किस सेक्शन का जवाब पहले देना है, ऐसी कोई सीमा नहीं है. 
- सभी सवालों का जवाब देना अनिवार्य होता है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें