scorecardresearch
 
करियर

इंटीरियर डिजाइनिंग में डिग्री-फुटबॉल ख‍िलाड़ी, ऐसे 40 की उम्र तक सिद्धार्थ शुक्ला बने मशहूर एक्टर

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 1/7

अभिनेता, मॉडल और टेलीविजन दुनिया के जाने-माने सितारे सिद्धार्थ शुक्ला ने ब‍िग बॉस 13 में विनर बनकर सबका दिल जीता. महज 40 की उम्र में आज वह दुनिया को विदा कह गए. इंटीरियर डिजाइनिंग में पढ़ाई करने वाले सिद्धार्थ फुटबॉल के भी शौकीन थे. आइए जानते हैं सिद्धार्थ की एजुकेशन और करियर से जुड़ी ये खास बातें...

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 2/7

सिद्धार्थ शुक्ला का जन्म 12 दिसंबर 1980 को मुंबई में हुआ था. सिद्धार्थ के पिता अशोक शुक्ला भारतीय रिजर्व बैंक में सिविल इंजीनियर के पद पर थे. वहीं मां रीता शुक्ला गृह‍िणी हैं. सिद्धार्थ जब मॉडलिंग में करियर बनाने में जुटे थे, उसी दौरान उनके पिता अशोक शुक्ला की फेफड़ों की बीमारी के चलते मौत हो गई थी. सिद्धार्थ के परिवार में मां के अलावा दो बड़ी बहनें हैं. 

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 3/7

अगर सिद्धार्थ की एजुकेशन की बात करें तो उन्होंने मुंबई के सेंट जेवियर्स हाई स्कूल से अपनी पढ़ाई की. इसके बाद रचना संसद स्कूल ऑफ़ इंटीरियर डिज़ाइन से इंटीरियर डिज़ाइन में ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की. उन्हें स्कूल में एक बहुत ही एथलेटिक बच्चे के रूप में जाना जाता था. उन्होंने टेनिस और फुटबॉल में अपने स्कूल का प्रतिनिधित्व भी किया. 

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 4/7

सिद्धार्थ फेस्टा इटालियाना का हिस्सा थे. वह इतालवी फुटबॉल क्लब से एसी मिलान की अंडर -19 टीम के खिलाफ खेल थे. साथ ही इंटीरियर डिजाइनर के तौर पर एक फर्म में काम भी करते थे. लेकिन मॉडलिंग के शौक के चलते उन्होंने अपना ध्यान मॉडलिंग में लगाना शुरू क‍िया.

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 5/7

उनकी मेहनत रंग लाई और साल 2004 में सिद्धार्थ शुक्ला ग्लैडरैग्स मैनहंट और मेगामॉडल प्रतियोगिता में उपविजेता घोष‍ित किए गए. फिर पर्दे पर पहली बार वो इला अरुण द्वारा गाए गए एक म्यूजिक वीडियो "रेशम का रुमाल" में दिखाई दिए, यह वीडियो काफी पसंद किया गया. लेकिन वो मॉडलिंग में आगे बढ़ने की ठान चुके थे. 

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 6/7

इसके बाद साल 2005 में सिद्धार्थ ने तुर्की में आयोजित विश्व की सर्वश्रेष्ठ मॉडल प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व किया. यहां वो एशिया, लैटिन अमेरिका और यूरोप के 40 प्रतियोगियों को हराकर खिताब जीतने वाले पहले भारतीय और साथ ही पहले एशियाई बने. ये खिताब जीतने के बाद, वह बजाज एवेंजर और आईसीआईसीआई आदि के विज्ञापनों में नजर आए. यहां से उनका चेहरा टीवी की दुनिया में पहचाना जाने लगा. 

 

टीवी एक्टर सिद्धार्थ शुक्ला
  • 7/7

करियर की शुरुआत टीवी विज्ञापनों में एक मॉडल के रूप में करने वाले सिद्धार्थ को साल 2008 में “बाबुल का आंगन छूटे ना” टाइटल से बने सीरियल में काम करने का मौका मिला. इसके बाद सबसे अध‍िक पहचान उन्हें बालिका वधु सीरियल में शिवराज शेखर का किरदार निभाकर मिली. इस सीरियल ने उन्हें टेलीविज़न का स्टार बना दिया. कई टीवी सीरियल्स में आने के बाद वो बिग बॉस 13 में कंटेस्टेंट के तौर पर नजर आए, जिसे बाद में उन्होंने जीता भी.