scorecardresearch
 

पीसीआर: पैनडेमिक से एनडेमिक बनेगा कोरोना वायरस?

पीसीआर: पैनडेमिक से एनडेमिक बनेगा कोरोना वायरस?

कोरोना वायरस की वजह से ज़िंदगी जीने का तरीका बदलता जा रहा है. हाथ मिलाना और गले लगना अब लोग सोचते भी नहीं. अभी तक कोरोना ने पैनडेमिक बन कर तबाही मचाई. लेकिन अब कहा जा रहा है कि यही कोरोना एनडेमिक भी बन सकता है. पैनडेमिक महामारी को कहते हैं, जबकि एनडेमिक उस हालत को कहते हैं जिसमें एक वायरस इंसानों के साथ घूमती रहती है. हालांकि दुनियाभर की सरकारों और मेडिकल साइंस को उम्मीद है कि जल्द ही कोरोना वायरस की कोई ना कोई वैक्सीन मिल जाएगी. कोरोना का ये वायरस कंट्रोल में तो ज़ाहिर तौर पर नहीं है. डब्लूएचओ ने शुरुआत में ही ये कहते हुए दे दी थी कि कोरोना वायरस को कभी भी खत्म नहीं किया जा सकेगा. दुनिया में अभी तक सिर्फ स्माल पॉक्स यानी चेचक ही ऐसी बीमारी है जिसका पूरी तरह से डब्लूएचओ ने उनमूलन का दावा किया है. जबकि पोलियो जैसी कई पुरानी बीमारियों का अभी तक भी उनमूलन नहीं किया जा सका है. देखिए पीसीआर.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें