scorecardresearch
 

भोपाल: चलती ट्रेन में टॉयलेट के अंदर महिला वेंडर से रेप

मध्य प्रदेश के बुधनी भोपाल रेल खंड पर ट्रेन के शौचालय में एक महिला वेंडर के साथ रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और 506 के तहत केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने आरोपी की पहचान करके उसे गिरफ्तार कर लिया है.

 रेप का सनसनीखेज मामला रेप का सनसनीखेज मामला

मध्य प्रदेश के बुधनी भोपाल रेल खंड पर ट्रेन के शौचालय में एक महिला वेंडर के साथ रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. पीड़िता की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 और 506 के तहत केस दर्ज कर लिया है. पुलिस ने आरोपी की पहचान करके उसे गिरफ्तार कर लिया है.

हबीबगंज थाना प्रभारी (जीआरपी) बीएल सेन ने बताया कि सीहोर जिले के बुधनी में रहने वाली महिला ने शिकायत दर्ज कराई है कि अमरकंटक एक्सप्रेस (दुर्ग से भोपाल) के स्लीपर क्लास के शौचालय में बुधनी से हबीबगंज आने के दौरान एक युवक ने उसके साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया. उसने पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी.

उन्होंने बताया कि आरोपी की पहचान भोपाल के रहने वाले जीतू (25) के रूप में हुई. पीड़िता ट्रेन में पॉपकार्न बेचने का काम करती है. वह पहले भी शिकायत दर्ज कराने भोपाल आयी थी, लेकिन शाम को वह बिना शिकायत दर्ज कराये वापस चली गई. आरोपी ने उसे इस वारदात के बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी.

घर वापस लौटने पर पीड़िता ने अपने पति को आपबीती बताई. इसके बाद दोनों ने बुधनी पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई. यह शिकायत हबीबगंज थाने को भेज दी गई है. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और धारा 506 (जान से मारने की धमकी) के तहत मामला दर्ज किया और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.

बताते चलें कि भोपाल में ही बीते 31 अक्टूबर की रात एक पुलिसकर्मी दंपति की बेटी के साथ गैंगरेप हुआ था. विदिशा की रहने वाली पीड़िता भोपाल के एमपी नगर में यूपीएससी की कोचिंग कर रही है. वह 31 अक्टूबर की शाम कोचिंग से हबीबगंज स्टेशन पैदल जा रही थी. इस बीच कुछ बदमाशों ने उसे झाड़ियों में खींच लिया और गैंगरेप किया.

इस मामले में लापरवाही बरतने पर तीन थाना प्रभारी एमपी नगर थाने के प्रभारी संजय सिंह बैस, हबीबगंज थाने के प्रभारी रविंद्र यादव, जीआरपी हबीबगंज के थाना प्रभारी मोहित सक्सेना, दो उप निरीक्षक (सब इंस्पेक्टर) टेकराम और उइके को निलंबित कर दिया गया था. गैंगरेप पीड़िता ने आरोपियों को चौराहे पर फांसी की सजा देने की मांग की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें