scorecardresearch
 

विकास दुबे के खात्मे के बाद UP में ऑपरेशन क्लीन, निशाने पर टॉप 5 अपराधी

जेल में बंद मुख्तार अंसारी और उसके शार्प शूटर से लेकर अतीक अहमद और खान मुबारक पर योगी सरकार ने सख्त एक्शन लेना शुरू कर दिया है.

एनकाउंटर में विकास दुबे का सफाया (फोटो-PTI) एनकाउंटर में विकास दुबे का सफाया (फोटो-PTI)

  • यूपी में अपराधियों का ऑपरेशन क्लीन शुरू
  • क्रिमिनल्स की टॉप 5 लिस्ट में हैं कई नाम

विकास दुबे का सफाया करने के साथ ही यूपी में अपराधियों का ऑपरेशन क्लीन शुरू हो गया है. अपराधियों की लिस्ट में टॉप 5 में कई चेहरे हैं. जेल में बंद मुख्तार अंसारी और उसके शार्प शूटर से लेकर अतीक अहमद और खान मुबारक पर योगी सरकार ने सख्त एक्शन लेना शुरू कर दिया है.

विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद यूपी सरकार ने अपराधियों का ऑपरेशन क्लीन शुरू कर दिया है. यूपी सरकार ने टॉप मोस्ट अपराधियों की एक लिस्ट बनाकर अधिकारियों को ताबड़तोड़ कार्रवाई करने का ऑर्डर दिया है. लिस्ट में पहला नाम मुख्तार अंसारी का है.

ये भी पढ़ें-12 घंटे तक कैमरे की जद में था STF का काफिला, 15 मिनट के लिए रोका और विकास दुबे खल्लास!

पंजाब की रोपड़ जेल में बंद मुख्तार अंसारी पर हत्या, अपहरण और उगाही के 40 से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं. प्रदेश के माफिया नेताओं में मुख्तार अंसारी का नाम पहले पायदान पर माना जाता है. 1988 में पहली बार हत्या के एक मामले में मुख्तार का नाम आया था. हालांकि पुलिस मुख्तार अंसारी के खिलाफ कोई पुख्ता सबूत नहीं जुटा पाई थी. 1995 में मुख्तार अंसारी ने राजनीति की मुख्यधारा में कदम रखा. 1996 में मुख्तार अंसारी पहली बार विधानसभा के लिए चुना गया.

अपराधियों की लिस्ट में दूसरे नंबर पर है उमेश राय उर्फ गौरा राय जो मुख्तार अंसारी का शार्प शूटर है. ये इस वक्त रामपुर की जेल में बंद है.

ये भी पढ़ें-गैंगस्टर विकास दुबे मारा गया लेकिन इसके जरिए किसको बचाया गया?

उत्तर प्रदेश में अपराध की दुनिया का तीसरा नाम है त्रिभुवन सिंह उर्फ पवन कुमार का, जो मिर्ज़ापुर जेल में बंद है. उत्तर प्रदेश के अपराधियों की लिस्ट में चौथे नंबर पर अतीक अहमद है जो इस वक्त गुजरात की साबरमती जेल में बंद है. अतीक पर कुल 109 केस दर्ज हैं. जुर्म की दुनिया में पूर्व सांसद और बाहुबली अतीक अहमद का भी बड़ा नाम है. अतीक अहमद 2004 में समाजवादी पार्टी से सांसद था और उस पर 2005 में बहुजन समाज पार्टी के विधायक राजू पाल की हत्या का आरोप लगा था.

ये भी पढ़ें-मुंबई के वकील ने SC में दायर की याचिका, पुलिस वालों पर एक्शन की मांग

अपराधियों की लिस्ट में 5वें नंबर पर खान मुबारक है. ये लखनऊ जेल में बंद है और पहले छोटा राजन गैंग से जुड़ा था. सरकार के ऑपरेशन क्लीन का ये पहला दौर है. लेकिन बबलू श्रीवास्तव से लेकर सुभाष ठाकुर और बृजेश सिंह तक तमाम अपराधियों का हिसाब अब होने वाला है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें