scorecardresearch
 

UP: बुलंदशहर में मंदिर परिसर में सो रहे दो साधुओं की हत्या, आरोपी गिरफ्तार

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की मॉब लिंचिंग के बाद अब उत्तर प्रदेश में साधुओं की हत्या की वारदात सामने आई है. बुलंदशहर में मंदिर परिसार में सो रहे दो साधुओं की हत्या कर दी गई. भीड़ ने आरोपी को पकड़ लिया.

X
साधुओं की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (फोटो-मुकुल शर्मा)
साधुओं की हत्या का आरोपी गिरफ्तार (फोटो-मुकुल शर्मा)

  • पगोना गांव के शिव मंदिर में सो रहे दो साधुओं की हत्या
  • ग्रामीणों ने आरोपी शख्स को पीटकर पुलिस को सौंपा

महाराष्ट्र के पालघर में दो साधुओं की मॉब लिंचिंग के बाद अब उत्तर प्रदेश में साधुओं की हत्या की वारदात सामने आई है. बुलंदशहर के अनूपशहर कोतवाली में दो साधुओं की हत्या कर दी गई. मंदिर परिसर में सो रहे दो साधुओं पर किसी हथियार से वार किया गया है. भीड़ ने आरोपी को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया है. वहीं, बुलंदशहर के डीएम की ओर से जानकारी दी गई कि दो साधुओं की हत्या के मामले में अभियुक्त मुरारी को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसके पास से एक डंडा भी बरामद हुआ है.

जानकारी के अनुसार, अनूपशहर कोतवाली के पगोना गांव में एक शिव मंदिर है. मंदिर में रहने वाले 55 वर्षीय साधु जगनदास और 35 वर्षीय साधु सेवादास की सोमवार रात हत्या कर दी गई है. मंगलवार सुबह जब ग्रामीण मंदिर पहुंचे तो साधुओं के लथपथ शव देखकर भड़क गए. देखते ही देखते मंदिर में सैकड़ों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

इस बीच ग्रामीणों ने एक शख्स पर शक जताया. इसके बाद उसकी जबरदस्त पिटाई की गई. घटना की सूचना पाकर मौके पर पुलिस फोर्स पहुंच गई और आरोपी शख्स को अपनी कस्टडी में ले लिया. इसके साथ ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है. पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है.

बुलंदशहर के एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पाया गया है कि कुछ दिन पहले आरोपी ने साधुओं के एक सामान (चिमटा) को छीन लिया था, जिसके बाद साधुओं ने उसे डांटा था. इससे नाराज होकर आरोपी ने दोनों साधुओं की हत्या कर दी. मामले की जांच की जा रही है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

इससे पहले महाराष्ट्र के पालघर में 16-17 अप्रैल की दरमियानी रात दो साधुओं और उनके ड्राइवर की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी. ग्रामीणों ने चोर के शक में तीनों की पिटाई की थी. इस दौरान पुलिसकर्मी मूकदर्शक बने थे. इस मामले में 100 से अधिक लोग गिरफ्तार किए गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें