scorecardresearch
 

बुलंदशहर: सुदीक्षा के साथ क्या हुआ था, कैसे गई जान, चाचा ने सुनाई हादसे की पूरी कहानी

घटना के बारे में सुदीक्षा के चाचा ने कहा, हम बच्चे को स्कूटी से लेने जा रहे थे. चौराहा पार करते ही बुलंदशहर गांव पड़ता है, वहां एक बुलेट थी जिसने कई बार हमें ओवरटेक किया. हमने अपनी स्कूटी धीमी कर ली. फिर वह बुलेट वाला स्टंट मारने लगा.

बुलंदशहर में सड़क हादसे में छात्रा की मौत बुलंदशहर में सड़क हादसे में छात्रा की मौत

  • सुदीक्षा के भाई और चाचा ने दी पूरी घटना की जानकारी
  • बुलेट सवार ने अचानक ब्रेक मारी, सिर के बल गिरी सुदीक्षा

यूपी के बुलंदशहर में मनचलों की वजह से एक बेहद होनहार छात्रा को अपनी जान गंवानी पड़ी. गरीब परिवार की ये बेटी अमेरिका में पढ़ रही थी और छुट्टियों मे घर आई थी. चाचा और भाई के साथ बाइक पर वो अपने मामा के घर जा रही थी. मनचलों की वजह से हुए दर्दनाक हादसे में इस होनहार छात्रा की मौके पर मौत हो गई.

घटना के बारे में सुदीक्षा के चाचा ने कहा, हम बच्चे को स्कूटी से लेने जा रहे थे. चौराहा पार करते ही बुलंदशहर गांव पड़ता है, वहां एक बुलेट थी जिसने कई बार हमें ओवरटेक किया. हमने अपनी स्कूटी धीमी कर ली. फिर वह बुलेट वाला स्टंट मारने लगा. उसने आगे जाकर एकदम से हमारे आगे ब्रेक मार दी. हमारी स्कूटी की उसमें सीधी टक्कर लगी और मैं गिर गया. मेरी भतीजी सिर के बल पीछे गिरी. मैं बुलेट वाले को पहचान नहीं पाया. बुलेट पर जाट लिखा हुआ था. घटना के बाद वह चला गया.

इस बारे में सुदीक्षा के भाई ने कहा, हमारी स्पीड 30 की रही होगी. हमने एकदम से ब्रेक मारी. सामने बुलेट थी जिस पर जाट लिखा था. यूपी-13 की बाइक थी. इमरजेंसी में नंबर नहीं नोट कर पाया. दीदी पीछे गिर गई और मैं आगे गिरा लेकिन मुझे चोट नहीं आई. सुदीक्षा के घर पर एक अन्य व्यक्ति ने कहा, पुलिस आधे घंटे बाद घटनास्थल पर पहुंची. इसे छुपाने की पूरी कोशिश हो रही है. पुलिस को क्या पता कि गाड़ी चाचा चला रहे थे या भाई चला रहा था. घटना हो गई उसके आधे घंटे बाद पुलिस पहुंची.

ये भी पढ़ें: बुलंदशहर: बुलेट सवार मनचले कर रहे थे पीछा, US में पढ़ रही छात्रा की एक्सीडेंट में मौत

दिल्ली से चंद किलोमीटर दूर ग्रेटर नोएडा के एक गांव की गरीब परिवार की होनहार बेटी सुदीक्षा भाटी की मौत से पूरे इलाके में मातम पसरा है. परिवार गरीब था लेकिन बेटी इतनी होनहार थी कि अमेरिका में पढ़ाई के लिए उसे स्कॉलरशिप मिली थी. छुट्टियों में अमेरिका से आई सुदीक्षा चाचा और भाई के साथ बाइक पर दादरी से बुलंदशहर मामा के घर जा रही थी.

अमेरिका लौटने से पहले वो ननिहाल वालों से मिलना चाहती थी लेकिन बुलंदशहर के करीब बुलेट सवार दो मनचलों ने उनकी बाइक का पीछा करना शुरू कर दिया. वे कभी स्टंट करते तो कभी सुदीक्षा पर फब्तियां कसते. कुछ दूर जाकर इन मनचलों ने अचानक बुलेट को ब्रेक लगा दिए. इससे सुदीक्षा के चाचा की बाइक फिसल गई और मौके पर ही सुदीक्षा की मौत हो गई. हैरत की बात ये कि पुलिस अभी तक हादसे की ही बात कर रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें