scorecardresearch
 

त्रिपुरा: एक और पत्रकार की हत्या, बहस के बाद जवान ने मारी गोली

सुदीप अपॉइंटमेंट लेकर 2nd टीएसआर कमांडेंट से मिलने आरके नगर गए हुए थे. लेकिन वह जैसे ही वहां पहुंचे कमांडेंट के कार्यालय के बाहर ही उनकी PSO से तकरार हो गई और PSO ने उन पर गोली चला दी.

पत्रकार सुदीप दत्त भौमिक पत्रकार सुदीप दत्त भौमिक

त्रिपुरा में सेना के जवान ने एक पत्रकार की गोली मारकर हत्या कर दी. अगरतला से निकलने वाले बांग्ला अखबार स्यंदन पत्रिका के पत्रकार सुदीप दत्त भौमिक को आरके नगर में 2nd त्रिपुरा स्टेट राइफल्स (टीएसआर) कमांडेंट के PSO नंदगोपाल रियांग ने गोली मारी. जवान को गिरफ्तार कर लिया गया है.

राज्य में बीते दो महीने के भीतर पत्रकार की हत्या का यह दूसरा मामला है. पत्रकार सुदीप राजधानी अगरतला से 20 किलोमीटर दूर आरके नगर टीएसआर कमांडेंट से अपॉइंटमेंट लेकर मिलने गए थे. लेकिन वहां पहुंचकर उनकी PSO से किसी बात को लेकर तकरार हो गई. तकरार इतनी बढ़ी की PSO नंदगोपाल ने गुस्से में सुदीप पर गोली चला दी.

समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस ने स्यंदन पत्रिका के संपादक सुबल डे के हवाले से कहा है, "हमारे अखबार में काम करने वाले वरिष्ठ पत्रकार सुदीप अपॉइंटमेंट लेकर 2nd टीएसआर कमांडेंट से मिलने आरके नगर गए हुए थे. लेकिन वह जैसे ही वहां पहुंचे कमांडेंट के कार्यालय के बाहर ही उनकी PSO से तकरार हो गई और PSO ने उन पर गोली चला दी. गोली लगने से सुदीप की मौके पर ही मौत हो गई."

सुदीप का शव अगरतला ले आया गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर 2nd टीएसआर कमांडेंट के PSO नंदगोपाल को गिरफ्तार कर लिया .

इससे पहले, इसी साल 20 सितंबर को पश्चिमी त्रिपुरा जिले में इंडिजीनस पीपुल्स फ्रंट ऑफ त्रिपुरा (आईपीएफटी) के आंदोलन को कवर कर रहे एक टीवी पत्रकार की अपहरण कर हत्या कर दी गई थी. 'दिनरात' न्यूज चैनल के पत्रकार शांतनु भौमिक मंडई में आईपीएफटी के सड़क जाम और आंदोलन को कवर रहे थे. उसी दौरान उन पर पीछे से हमला किया गया और उनका अपहरण कर लिया गया. बाद में चाकुओं से गुदा भौमिक का शव मिला था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें