scorecardresearch
 

19 साल पुराने आर्म्स केस में 'दबंग खान' की पेशी, ये था पूरा मामला

सलमान पर 'हम साथ-साथ हैं' फिल्म की शूटिंग के दौरान संरक्षित प्रजाति के काले हिरणों का शिकार करने और इसमें गैर-लाइसेंसी हथियारों का इस्तेमाल करने के आरोप हैं. ये था पूरा मामला...

19 साल पुराने केस में फंसे हुए हैं सलमान खान 19 साल पुराने केस में फंसे हुए हैं सलमान खान

आर्म्स एक्ट केस में फंसे सलमान खान कुछ ही देर में जोधपुर कोर्ट पहुंचने वाले हैं. वह मुंबई स्थित अपने घर गैलेक्सी अपार्टमेंट से रवाना हो चुके हैं. सलमान अपने जमानत मुचलकों की तस्दीक करने के लिए शुक्रवार को जोधपुर कोर्ट में हाजिरी देंगे.

क्या था मामला

साल 1998 से सलमान खान के खिलाफ जोधपुर में अवैध तरीके से हथियार रखने और उनसे शिकार करने का मामला चल रहा है. सलमान पर 'हम साथ-साथ हैं' फिल्म की शूटिंग के दौरान संरक्षित प्रजाति के काले हिरणों का शिकार करने और इसमें गैर-लाइसेंसी हथियारों का इस्तेमाल करने के आरोप हैं. हालांकि ट्रायल कोर्ट ने उन्हें जनवरी में इस केस में बरी कर दिया था.

राज्य सरकार ने दी फैसले को चुनौती

सलमान खान को बरी किए जाने के फैसले को राज्य सरकार ने सेशन कोर्ट में चुनौती दी थी. जिसके बाद राज्य सरकार की याचिका पर कोर्ट ने सलमान को नोटिस जारी किया. उन्हें जमानत मुचलके की तस्दीक करने के लिए कोर्ट में हाजिर रहने का आदेश जारी किया गया है. इसके लिए उन्हें पिछले महीने ही जोधपुर आना था लेकिन जज का ट्रांसफर हो जाने की वजह से केस की सुनवाई टल गई थी.

5 काले हिरणों का किया था शिकार

बताते चलें कि 1998 में 'हम साथ-साथ हैं' फिल्म की शूटिंग के दौरान सलमान खान पर 3 अलग-अलग जगहों पर काले हिरणों का शिकार करने का आरोप लगा था. दरअसल जोधपुर स्थित भवाद और कांकाणी गांव में 4 काले हिरणों और घोड़ा फार्म में 1 काले हिरण का शिकार किया गया था. शिकार में गैर-लाइसेंसी हथियारों का इस्तेमाल किया गया था.

सैफ समेत 4 फिल्मी हस्तियों पर ये था आरोप

इस केस की जांच में सामने आया था कि कांकाणी गांव में जिस वक्त हिरणों का शिकार हुआ, सलमान के साथ सैफ अली खान, सोनाली बेंद्रे, तब्बू और नीलम भी मौजूद थीं. सलमान पर शिकार करने और सैफ समेत तीनों अभिनेत्रियों पर उन्हें उकसाने का आरोप है.

'दबंग खान' को सुनाई 1 और 5 साल की सजा

इस मामले में निचली अदालत ने सलमान को 1 साल और 5 साल की सजा सुनाई थी. सलमान की ओर से फैसले के खिलाफ हाई कोर्ट में अपील की गई. जिसके बाद उन्हें दोनों ही मामलों में बरी कर दिया गया. अब इस फैसले को राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. कांकाणी गांव में दो काले हिरण के शिकार मामले में निचली अदालत में सुनवाई जारी है.

आर्म्स एक्ट मामले में भी मामला दर्ज

शिकार में इस्तेमाल हथियार की वजह से सलमान के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत अलग से मामला दर्ज किया गया था. दरअसल सलमान ने जिन हथियारों से शिकार किया था, उनकी लाइसेंस डेट खत्म हो चुकी थी. उन्हें रिन्यू नहीं कराया गया. इस मामले में भी सलमान खान बरी हो चुके हैं.

आज कोर्ट में क्या होगा

ट्रायल कोर्ट ने उन्हें इस मामले में बरी तो कर दिया था लेकिन इस फैसले को चुनौती देने की बात को ध्यान में रखते हुए सलमान को पाबंद किया गया कि कोर्ट के बुलाने पर उन्हें अपनी मौजूदगी दर्ज करानी होगी. एक बार फिर से उन्हें कोर्ट में जज के सामने जमानत मुचलकों पर दस्तखत करने होंगे. इस दौरान जज चाहे तो सलमान से सवाल-जवाब कर सकते हैं.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें